चमोली में कोरोना के 93 केस

Spread the love

चमोली। जनपद चमोली में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन को काफी हद तक सफलता मिली है। जहॉ एक ओर संक्रमित हुए मरीजों की संख्या घट रही है वही होम आइसोलेशन और कोविड-19 अस्पताल से बडी संख्या में मरीज स्वस्थ्य होकर डिस्चार्ज हो रहे है। जिले में संक्रमित हुए मरीजों में से अब तक 82 प्रतिशत लोग रिकवर हो चुके है। मंगलवार को जिले में कोरोना के 93 मामले मिले। जनपद में कोविड से अब तक 11609 लोग संक्रमित हुए। जिसमें से 9212 लोग स्वस्थ्य हो चुके है और 2159 केस एक्टिव हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमितों का उपचार किया जा रहा है। कोविड संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन सभी जरूरी कदम उठा रहा है। होम आइसोलेशन में रखे मरीजों को आइसोलेशन किट उपलब्ध कराने के साथ-साथ नियमित चिकित्सा सलाह दी जा रही है। संक्रमण की रोकथाम के लिए घर-घर आइवरमेक्टिन दवा वितरण एवं वैक्सीनेशन का कार्य भी लगातार जारी है। लोगों को भीडभाड से बचने, शारीरिक दूरी रखने तथा मास्क पहनने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के निर्देशों के क्रम में स्वास्थ्य विभाग द्वारा अधिक से अधिक लोगों के सैंपल जांच की जा रही है। मंगलवार को 638 सैंपल जांच के लिए भेजे गए। स्वास्थ्य टीमें गांव गांव जाकर भी कोरोना जांच कर रही है। अब तक स्वास्थ्य टीमों द्वारा 458 गांवों में जाकर 24361 लोगों की सैंपल जांच किए गए है। गौचर बैरियर पर अब तक 2861, गैरसैंण बैरियर पर 1221 तथा ग्वालदम बैरियर पर 104 लोगों का रैपिड एंन्टीजन टेस्ट किया गया। कोविड सेंटर में 35 मरीजों का उपचार चल रहा है। इसके अलावा 2034 मरीजों को होम आइसोलेशन में उपचार किया जा रहा है। गांव में आशा, आंगनबाडी तथा ग्राम प्रधानों के माध्यम से होम आइसोलेट लोगों के स्वास्थ्य संबधी देखभाल की जा रही है। ब्लाक एवं सिटी रिसपोंस टीमों द्वारा भी जिले के विभिन्न क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण पर निगरानी रखी जा रही है। तहसील घाट के अन्तर्गत मोख तल्ला गांव को आज कन्टेनमेंट जोन से मुक्त किया गया। जिले में अभी 15 विभिन्न स्थानों पर कन्टेनमेंट जोन बनाकर बैरिकेटिंग की गई है। सभी कन्टेनमेंट एरिया में फल, दूध सब्जी आदि दैनिक वस्तुओं की नियमित सप्लाई की जा रही है इसके लिए जिला पूर्ति अधिकारी को नोडल बनाया गया है। कन्टेनमेंट जोन में लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण के साथ नियमित सेनेटाइजेशन एवं अन्य संबधित कार्यो की एसडीएम के माध्यम से स्वयं मॉनिटरिंग की जा रही है। जिले में कोविड नियमों का भी सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है। कोविड नियमों के उल्लंघन करने पर अब तक 9857 व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!