आक्रोशित व्यापारियों ने फिर किया मक्कूबैंड से भनकुंड तक प्रदर्शन | Dainik Jayant

आक्रोशित व्यापारियों ने फिर किया मक्कूबैंड से भनकुंड तक प्रदर्शन

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

रुद्रप्रयाग। हाईकोर्ट के निर्देश पर प्रशासन द्वारा अतिक्रमण चिह्नीकरण से गुस्साए चोपता व्यापार मंडल इकाई के व्यवसायियों द्वारा मक्कूबैंड से भुनकुंड तक प्रदर्शन किया गया। इस दौरान व्यवसायियों ने अतिक्रमण के विरोध में सरकार व प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया। सोमवार को तुंगनाथ घाटी के मक्कूबैंड, पंगेर, दुगलबिट्टा, पटवाड़ा, बनियाकुण्ड, चोपता और भनकुंड के ढाबा, होटल, लज एवं कैम्प का संचालन कर रहे 250 से अधिक युवा एकत्रित हुए। इन युवाओं ने मक्कूबैंड दुगलबिट्टा से लेकर चोपता भुनकन तक बाजारों में प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाए जाने की कार्यवाही पर सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे व्यापारियों ने राष्ट्रीय राजमार्ग से अतिक्रमण हटाए जाने की कार्यवाही पर रोष व्यक्त किया। व्यवसायियों ने कहा कि यात्रा के विभिन्न पड़ावों पर स्वरोजगार कर अपनी रोजी रोटी चला रहे युवाओं को पहले अतिक्रमण के नाम पर नोटिस देकर प्रताड़ित किया गया और अब इनके व्यापारिक प्रतिष्ठानों को ध्वस्त करने की कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस विपदा की घड़ी में सरकार द्वारा लोगों के रोजगार को बचाए रखने लिए अभी तक एक भी कदम नहीं उठाए गए। उन्होंने कहा कि लोगों के रोजगार उजड़ रहे हैं और प्रदेश सरकार मौन बनी हुई है। बैठक में स्थानीय युवाओं ने सरकार से उनके प्रतिष्ठानों को बचाकर पर्यटन व रोजगार नीति बनाने की मांग की। इस मौके पर चोपता व्यापार मंडल अध्यक्ष भूपेंद्र मैठाणी, क्षेपंस जसबीर नेगी, प्रधान विजयपाल नेगी, प्रधान अरविंद रावत, सतीश मैठाणी, प्रदीप बजवाल, विजय चौहान, कुंवर सिंह राणा, विनोद नेगी, प्रमोद रावत, मोहन मैठाणी, मदन चौहान, आशीष रावत, उमेद राणा, शिशुपाल सिह, दीपक सिंह, राजेन्द्र नेगी आदि मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!