मार्च पास्ट के साथ बसंत पंचमी मेले का हुआ शुभारंभ

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार : कोटद्वार स्थित महर्षि कण्व की तपस्थली एवं भारत नामदेय चक्रवर्ती सम्राट भरत की जन्मस्थली कण्वाश्रम में 27 जनवरी तक होने वाले कण्वाश्रम महोत्सव का आरंभ छात्र छात्राओं के शानदार मार्चपास्ट के साथ हो गया है।
राजकीय इंटर कॉलेज कोटद्वार से प्रारंभ हुआ मार्चपास्ट नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए झंडाचौक पहुंचा जहां पर मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शेखर सुयाल ने मार्चपास्ट में शामिल दलों की सलामी ली। उपजिलाधिकारी ने महोत्सव के पारंपरिक ध्वज को एनसीसी कैडेट्स को सौंपकर महोत्सव के विधिवत उद्घाटन की घोषणा की। उपजिलाधिकारी ने कहा कि कण्वाश्रम भारत की सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहर है। यहीं पर ऐसे चक्रवर्ती सम्राट भरत का जन्म हुआ जिनके नाम पर इस देश का नाम भारतवर्ष पड़ा। एएसपी शेखर सुयाल ने कहा कि बसंत पंचमी ज्ञान की देवी मां सरस्वती की आराधना का पर्व है, ऐसे पावन अवसर पर विश्व के पुरातन शैक्षणिक संस्थानों में से एक कण्वाश्रम गुरुकुल में आयोजित होने वाला यह महोत्सव हमारी गौरवशाली संस्कृति की अनमोल धरोहर है। इस मौके पर कण्वाश्रम महोत्सव आयोजन समिति के अध्यक्ष मंजुल डबराल, भाजपा नेता राज गौरव नौटियाल, खंड शिक्षा अधिकारी अयाजुद्दीन, भाजपा नेता उमेश त्रिपाठी, अनिल बहुगुणा, मनीराम शर्मा, रमन पांडे, शशिबाला केष्टवाल, कुलदीप अग्रवाल और अमित भारद्वाज सहित कई लोग मौजूद रहे।

26 जनवरी को होने वाले कार्यक्रम
26 जनवरी को सुबह महिला मंगलदल, कीर्तन मंडलियों के माध्यम से विभिन्न प्रतियोगिताएं होगी। 11 बजे से पुरूष ओपन व विभिन्न विद्यालयों के वरिष्ठ बालक एवं बालिका वर्ग की कबड्डी एवं बालबाल की प्रतियोगिता होगी। 12 बजे से विभिन्न विद्यालयों के सांस्कृतिक कार्यक्रम, दोपहर दो बजे से संस्कृति विभाग के सांस्कृतिक दलों के माध्यम से रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!