भारतीय नौसेना के युद्घपोत पर पहली बार दो महिला अधिकारियों की हुई तैनाती

Spread the love

कोच्चि, एजेंसी। । भारतीय नौसेना में पहली बार सोमवार को दो महिला अधिकारियों की तैनाती युद्घपोत पर की गई। ये दो महिला अधिकारी हैं सब-लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब-लेफ्टिनेंट रिति सिंह। इन्हें हेलीकप्टर स्ट्रीम में अब्जर्वर के तौर पर नियुक्त किया गया है। कोच्चि में प्टै ळंतनकं में आयोजित समारोह में अब्जर्वर के तौर पर ग्रेजुएट होने पर श्ॅपदहेश् से सम्मानित किया गया है।
उल्लेखनीय है कि युद्घ पोतों पर प्राइवेसी के लिहाज से अब तक महिलाओं की तैनाती लंबे समय के लिए नहीं की जाती थी और यहां महिलाओं के लिए वशरूम भी नहीं है। लेकिन अब इन दोनों महिला अधिकारियों के आने के बाद सब बदलना निश्चित है। हालांकि भारतीय नौसेना में कई महिला अधिकारियों को तैनात किया जाता रहा है। भारतीय नौसेना के प्रवक्ता कमांडर विवेक मढ़वाल ने बताया कि युद्घपोत में महिलाओं की एंट्री पर रोक थी।
17 अधिकारियों की टीम में से चुनी गई दो महिला अब्जर्वर
ये दोनों महिला अधिकारी भारतीय नौसेना के 17 अधिकारियों के टीम में शामिल हैं जिसमें 4 महिला अधिकारी व तीन भारतीय तट रक्षक भी शामिल हैं। अब्जर्वर के तौर पर नियुक्त ये दोनों सब-लेफ्टीनेंट जिस टीम का हिस्सा थीं उसे एयर नेविगेशन, फ्लाइंग प्रोसीजर्स, हवाई युद्घ के दौरान आजमाई जाने वाली तरकीबों, एंटी-सबमरीन वारफेयर के अलावा एवियनिक सिस्घ्टम्घ्स का प्रशिक्षण दिया गया है। पूरी टीम को कोच्चि में समारोह में अब्जर्वर्स के रूप में ग्रेजुएट होने पर विंग्स से सम्मानित किया गया।
दो युवा महिला अधिकारी नौसेना के मल्टी-रोल हेलीकप्टरों में लगे सेंसरों को अपरेट करने की ट्रेनिंग ले रही हैं। ये दोनों अधिकारी नौसेना के नए एमएच-60 आर हेलीकप्टरों में उड़ान भरेंगी। भारतीय नौसेना में लिंग-समानता को साबित करने वाले एक कदम के तहत सब-लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी तथा सब-लेफ्टिनेंट रिति सिंह को नौसेना के युद्घपोत पर क्रू के रूप में तैनात किया गया है, वे ऐसा करने वाली पहली महिला अधिकारी होंगी।
इसके अलावा चीफ गेस्ट ने 6 अन्य अधिकारियों को श्इंस्ट्रक्टर बैचश् से सम्मानित किया। इनमें से पांच भारतीय नौसेना के और एक महिला भारतीय तट रक्षक की हैं। इस समारोह में चीफ स्घ्टाफ अफिसर (ट्रेनिंग) रियर एडमिरल ऐंटनी जर्ज ने सभी अधिकारियों को सम्मानित किया। उन्घ्होंने कहा कि यह खास मौका है जब पहली बार महिलाएं हेलिकप्घ्टर अपरेशन में प्रशिक्षित पाने के बाद जंगी जहाजों पर तैनात होने वाली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!