चार साल के बच्चे को घर से ले गया गुलदार, बनाया निवाला

Spread the love

नारायणबगड, एजेन्सी। नारायणबगड़ प्रखंड के ग्राम सभा ट्यूला के ग्राम मगेटी में बृहस्पतिवार रात आठ बजे के लगभग नेपाली मूल के चार वर्षीय बालक की गुलदार ने निवाला बना दिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार रात आठ बजे के लगभग ट्यूला ग्राम पंचायत के मगेटी तोक में नेपाली मूल के चार वर्षीय रमेश पुत्र प्रेम बहादुर को घर से उठा ले गया। ग्रामीणों एवं नेपाली मूल के लोगों ने देर रात तक खोजबीन की। लेकिन बालक का कहीं कोई पता नहीं चल पाया। लेकिन झाड़ियों में बालक का सिर्फ सिर मिला। छेत्र में इस प्रकार की घटना से ग्रामीणों में भारी रोष है।

गुलदार को मारने की मांग-जिला पंचायत सदस्य भारती रावत एवं समाजसेवी देवराज रावत घटना के बाद मौके पर पहुँचे। उन्होंने वन अधिकारियों को शीघ्र ही गुलदार को मारने की मांग की है एवं इस घटना पर दुख जताया है।
बताया कि यदि शीघ्र ही गुलदार को मारा न गया तो अन्य घटनाएं भी हो सकती है। वन छेत्रधिकारी बीएस परमार ने बताया कि गुलदार की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए छेत्र में वनकर्मियों की तैनाती कर दी गई है। जो कुछ दिनों तक छेत्र में ही रहेंगे। गुलदार की पकड़ने के लिए पिंजरा भी लगाया जा रहा है लेकिन अभी तक गुलदार पकड़ में नहीं आया है।

गुलदार ने दो युवकों पर बोला हमला, एक हायर सेंटर रेफर
संवाददाता, उत्तरकाशी। उत्तरकाशी के पुरोला विकासखंड पुरोला के रामा एवं बेस्टी गांव के पास दो अलग-अलग घटनाओं में गुलदार ने हमला कर दो युवकों को घायल कर दिया। गंभीर हालत को देखते हुए एक को हायर सेंटर रेफर किया गया है। वन विभाग ने गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाने की तैयारी शुरू कर दी है।
शुक्रवार सुबह करीब दस बजे रामा गांव निवासी लोकेश बिष्ट (28) पुत्र मोहन सिंह गांव के पास पंताल तोक में अपने खेत में हल लगा रहा था। इतने में गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। आसपास मौजूद लोगों के शोर मचाने पर गुलदार भाग गया। कुछ ही देर बाद इस गुलदार ने पास के बेस्टी गांव में गाय चराने जंगल में गए अरविंद (21) पुत्र शूरवीर लाल पर हमला कर उसे घायल कर दिया। ग्रामीणों की मदद से दोनों घायलों को तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पुरोला पहुंचाया गया। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा. पंकज ने बताया कि अरविंद को हल्की चोटें आयी हैं।
उसे प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। जबकि लोकेश को गंभीर चोटें आने की वजह से हायर सेंटर रेफर किया गया है। टौंस वन प्रभाग के एसडीओ रविंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि क्षेत्र में गुलदार के हमले की शिकायत मिलते ही घटना स्थल पर वन विभाग की टीम को भेजा गया है। गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया जा रहा है।

घायल बाघ की मौत, तेंदुआ भी मृत मिला
संवाददाता, रामनगर। बाघों के संरक्षण के लिए विश्व विख्यात जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में बाघिन मृत मिली है। उसकी उम्र दस वर्ष बताई जा रही है। इस वर्ष कार्बेट में किसी टाइगर की मौत का यह पहला मामला है। बताया जा रहा है कि उसकी मौत आपसी संघर्ष के कारण हुई होगी। वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर टाइगर को कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को गस्त के दौरान वनकर्मियों ने एक घायल बाघ को देखा था। इसकी सूचना वे वनाधिकारियों को देने और रेस्क्यू के लिए दोबारा आने की सोचकर लौट गए। लेकिन जब रेस्क्यू करने के लिए दोबारा लौटे तो बाघ मृत मिला। पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का सही कारण पता चल सकेगा। रामनगर में ही एक तेंदुए का भी शव बरामद हुआ है।
रामनगर में शुक्रवार को एक बाघ व तेंदुए की मौत हो गई। दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए लाया गया है। कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के झिरना क्षेत्र में वन कर्मियों को गुरुवार को हाथी से गश्त के दौरान एक बाघ घायल अवस्था में दिखा। शुक्रवार को रेस्क्यू करने की बात कहकर वनकर्मी वापस आ गए। शुक्रवार को सुबह वन कर्मी रेस्क्यू के लिए आए तो बाघ मृत मिला। बाघ की मौत आपसी संघर्ष में घायल होना बताया जा रहा है। इसके अलावा तराई पश्चिमी वन प्रभाग के उदयपुरी गांव में एक तेंद मृत मिला है। उसे भी पोस्टमार्टम के लिए वन विभाग के कार्यशाला लाया गया। तेंदुए की मौत का कारण पता नहीं चल सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!