सीएम योगी आदित्यनाथ का पांच वर्ष का रोड मैप तैयार, दो दिन फील्ड में रहें मंत्री और उनके फीड बैक पर तय होगी कार्ययोजना

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

लखनऊ, एजेंसी। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में बड़ा लक्ष्य तय कर लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस लक्ष्य प्राप्त करने के लिए टीम वर्क के साथ आगे बढ़ेंगे। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार अपनी लोक कल्याण को रणनीति बनाकर आगे बढ़ रही है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब फील्ड पर जाकर विकास कार्य की हकीकत जानने को अपनी वरीयता पर रखा है। प्रदेश सरकार के सभी मंत्री हर शनिवार और रविवार को अपने-अपने क्षेत्र या फिर प्रदेश में किसी भी जगह पर जाकर कार्य देखेंगे। इसके बाद सोमवार या मंगलवार को उनके फीड बैक पर आगे की कार्य योजना तय की जाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सभी मंत्रियों से कहा कि हमको अपने-अपने विभागों के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए टीम वर्क के साथ हमें आगे बढना है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों से कहा कि वह शनिवार और रविवार को फिल्ड में रहें। धरातल पर लोगों की समस्याओं को समझें और सुझाव दें। उनके फीड बैक पर सोमवार या मंगलवार को आगे की कार्य योजना तय की जाएगी।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में सरकार गठन के एक माह के भीतर सभी मंत्रियों और विभागों के प्रमुख अधिकारियों (टीम यूपी) के साथ पांच वर्ष का रोड मैप तैयार कर लिया है। उनकी टीम यूपी लोक कल्याण के संकल्प के साथ रणनीति बनाकर आगे बढ़ रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने 25 मार्च को शपथ ग्रहण के बाद सभी विभागों से सौ दिन, छह माह, दो वर्ष और पांच वर्ष की कार्य योजना मांगा था। इसके बाद सभी विभागों को दस सेक्टरों में बांटा गया और 13 से 21 अप्रैल के बीच सुबह और शाम अलग-अलग सेक्टरों का प्रजेंटेशन हुआ। सभी प्रजेंटेशन में बीते पांच वर्ष के कार्य और अगले पांच वर्ष की तैयारियों को रखा गया था।
प्रजेंटेशन के बाद मंत्रियों के सुझावों को भी लिया गया और उस पर अमल करने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश भी दिए। उन्होंने अधिकारियों को अपराध, भ्रष्टाचार और माफियागिरी पर कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों से कहा कि आपको यह जानकारी होनी चाहिए कि हमें पांच वर्ष पहले प्रदेश किस हालत में मिला था और आज क्या स्थिति है। इसके साथ ही हमें देश में उत्तर प्रदेश को नंबर एक बनाने के लिए क्या करना है। अब आपको शासन की सभी योजनाओं की जानकारी हो गई है। इसके आधार पर एक्शन प्लान बनाकर विभागीय बैठक भी करें।
अधिक से अधिक तकनीकी का उपयोग और रोजगार पर फोकस रू सीएम योगी आदित्यनाथ का लोक कल्याण के साथ तकनीकी और रोजगार पर फोकस है। उन्होंने अधिक से अधिक लेटेस्ट तकनीक के उपयोग पर जोर दिया है, ताकि पूरी व्यवस्था पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त हो। उन्होंने प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से अधिक से अधिक लोगों को रोजगार दिलाने के लिए शिक्षा व्यवस्था में सुधार से लेकर विभागों को भी इस दिशा में कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!