कोरोना के बढ़ते मामलों से पांच राज्घ्यों में बिगड़े हालात, इन राज्घ्यों में लगा नाइट कर्फ्यू और लकडाउन, जानें कहां बंद हुए स्घ्कूल

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ठीक एक साल पहले यानी 22 मार्च, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर लोगों ने श्जनता कर्फ्यूश् का पालन करते हुए घर से बाहर कदम नहीं रखे थे। एक साल बाद हालात फिर खतरनाक रूप लेते जा रहे हैं। पिछले दो दिनों में ही करीब 91 हजार नए मामले बढ़ गए हैं और एक हफ्ते की बात करें तो इसमें ढाई लाख की वृद्घि हुई है। एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत ने संक्रमण को काबू में कर लिया है, पांच राज्यों ने उसे बेकाबू कर दिया है। इन राज्यों में महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और मध्य प्रदेश शामिल हैं, जहां से कुल 80़5 फीसद नए मामले हैं। इन राज्यों में स्थिति गंभीर होती जा रही है।
कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण राजस्थान के आठ शहरों- अजमेर, भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा और कुशलगढ़ में रात 11 बजे से सुबह 5 तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। राजस्थान सरकार के फैसले के मुताबिक, शहरी क्षेत्रों में रात 10 बजे के बाद बाजार नहीं खुलेंगे। इसके साथ ही बाहर से शहर आए यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाना अनिवार्य रहेगा।
देश के दो राज्यों में फिलहाल लकडाउन जैसे प्रतिबंध लगाए गए हैं। महाराष्ट्र के नागपुर में 31 मार्च तक लकडाउन लगाया गया है। मध्य प्रदेश के तीन शहरों- भोपाल, इंदौर और जबलपुर में अब हर रविवार को लकडाउन लगाया जाएगा।
देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों में स्कूल-कलेज बंद कर दिए गए हैं। महाराष्ट्र, पंजाब, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत कई राज्यों में सरकारों ने सख्ती दिखाते हुए स्कूल-कलेज बंद किेए जाने की घोषणा कर दी है। इस बीच अब तमिलनाडु में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 12वीं के अलावा सभी स्कूल को अगले आदेश तक बंद रखने का आदेश दिया गया है। इसके अलावा पुडुचेरी में पहली से आठवीं तक के स्कूल 22 मार्च से 31 मार्च तक बंद कर दिए गए हैं। इससे पहले छत्तीसगढ़ में भी कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्कूल, कलेज और आंगनवाड़ी केंद्रों को तत्तकाल प्रभाव से बंद कर दिया गया है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से सोमवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान 46,951 नए मामले मिले हैं। इससे पहले 12 नवंबर को 47,905 केस पाए गए थे। एक दिन पहले 43,846 नए मामले मिले थे, इस तरह दो दिनों में ही 90,797 मामले बढ़ गए हैं। पिछले एक हफ्ते के दौरान नए मामलों का आंकड़ा 2,60,742 पर पहुंच गया है। इस दौरान 212 लोगों की जान भी गई है। इनको मिलाकर कुल संक्रमितों की संख्या 1़16 करोड़ को पार कर गई है और मृतकों की संख्या भी 1़60 लाख के करीब पहुंच गई है। अब तक 1़11 करोड़ लोग ठीक भी हो चुके हैं।
मंत्रालय के मुताबिक सक्रिय मामलों में पिछले 12 दिनों से लगातार वृद्घि हो रही है। वर्तमान में इनकी संख्या 3,34,646 हैं, जो कुल मामलों का 2़87 फीसद है। 12 फरवरी को सक्रिय मामलों का आंकड़ा 1,35,926 तक आ गया था, जो कुल मामलों का 1़25 फीसद था।
नए मामलों के बढ़ने और कम मरीजों के ठीक होने से उबरने की दर भी लगातार गिर रही है। 17 फरवरी को मरीजों के उबरने की दर 97़33 फीसद पर पहुंच गई थी, जो अब गिरकर 95़75 फीसद पर आ गई है। मृत्युदर में गिरावट जारी है और अभी यह 1़38 फीसद पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!