कोरोना मरीजों के लिए दिल्ली में मिलेंगे 500 रेलवे कोच, टेस्टिंग को किया जाएगा तीन गुना: गृह मंत्री अमित शाह

Spread the love

नई दिल्ली, एजेन्सी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन, दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। गृह मंत्री अमित शाह ने अपने ट्वीट संदेश के जरिए यह जानकारी दी है। दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर रविवार को दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह के साथ उप राज्यपाल, मुख्यमंत्री और दिल्ली के कई वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक हुई है।
गृह मंत्री अमित शाह ने बताया कि दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेल्वे कोच दिल्ली को देने का निर्णय लिया है। इन रेलवे कोच से न सिर्फ दिल्ली में 8000 बेड बढ़ेंगे बल्कि यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे।
अमित शाह ने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि दिल्ली के निजी अस्पताओं में कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए निजी अस्पतालों के कोरोना बेड में से 60% बेड कम रेट में उपलब्ध कराने, कोरोना उपचार व कोरोना की टेस्टिंग के रेट तय करने के लिए डॉ. पॉल की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गयी है जो कल तक अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। गृह मंत्री ने ट्वीट संदेश में लिखा कि भारत सरकार ने दिल्ली सरकार को इस महामारी से लड़ने के लिए आवश्यक संसाधन जैसे ऑक्सीजन सिलिंडर, वेंटीलेटर, पल्स ऑक्सीमीटर व् अन्य सभी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए पुर्णत: आश्वस्त किया है।

दिल्ली में को कोरोना मुक्त बनाए जाने के लिए एनसीसी और एनएसएस जैसी संस्थाओं के वॉलंटियर्स को सेवा कार्य के लिए जोड़ने का फैसला किया गया है, अमित शाह ने अपने ट्वीट संदेश में बताया कि कई स्वयंसेवी संस्थाएं बहुत उत्कृष्ट कार्य कर रही हैं। इस क्रम में सरकार ने रूङ्म४३ ॠ४्रीि,ठउउ,ठरर व अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं को इस महामारी में स्वास्थ्य सेवाओं में वालंटियर के नाते जोड़ने का निर्णय लिया है।
इतना ही नहीं दिल्ली में कोरोना मरीजों की पहचान के लिए अब टेस्टिंग को बढ़ावा देने की बात भी कही जा रही है, अमित शाह ने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि अगले दो दिन में कोरोना की टेस्टिंग को बढाकर दो गुना किया जायेगा और 6 दिन बाद टेस्टिंग को बढाकर तीन गुना कर दिया जायेगा। साथ ही कुछ दिन के बाद कन्टेनमेंट जोन में हर पोलिंग स्टेशन पर टेस्टिंग की व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी। कंटेनमेंट जोन में कॉम्टेक्ट मैपिंग के लिए घर घर जाकर हर व्यक्ति का सर्वे किया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!