पांच वर्षों में हुई दुर्घटनाओं का जीआईएस मैप तैयार करें

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी : जिलाधिकारी ने सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में समस्त उपजिलाधिकारियों, पुलिस व परिवहन विभाग को अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित रूप से चैकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने आरटीओ व उपजिलाधिकारी धुमाकोट को निर्देश दिये कि धुमाकोट क्षेत्र में चल रहे वाहनों की जांच करें, जांच के उपरांत वाहन में खामियां पाई जाती है तो आवश्यक कार्यवाही करें। उन्होंने समस्त उपजिलाधिकारियों को कहा कि पिछले पांच वर्षों में हुई दुर्घटनाओं का जीआईएस मैप तैयार कर उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करें।
सोमवार को सड़क सुरक्षा समिति की बैठक एनआईसी कक्ष में जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में सड़क मार्गों पर हुए सुधार कार्य, चालान कार्यवाही, ब्लैक स्पॉटों पर सुधार कार्य, दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने सहित अन्य पर चर्चा की गई। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन मार्गों पर सुधार कार्य शेष रह गया है वहां तत्काल कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने एसडीएम यमकेश्वर को वाहन दुर्घटना की मजिस्ट्रियल जांच जल्द पूर्ण करते हुए उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। साथ ही जिलाधिकारी ने आरटीओ को नये मार्गों पर वाहनों का आवागमन हेतु निरीक्षण करने के निर्देश दिये। उन्होंने अधीक्षण अभियंता लोनिवि को ब्लैक स्पॉटों का कार्य समय पर पूर्ण करने को कहा। डीएम ने राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों को मार्गों पर स्पीड ब्रेकर, क्रैश बेरियर सहित अन्य महत्वपूर्ण कार्य करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस तहसील व थाना क्षेत्र स्तर पर इस वर्ष शून्य दुर्घटनाओं का आंकड़ा रहा उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर अधीक्षण अभियंता पीएस बृजवाल, आरटीओ अनीता चंद, सीओ पुलिस प्रेमलाल टम्टा, अधिशासी अभियंता पाबौ केएस नेगी, दुगड्डा डीपी सिंह, लैंसडौन पीएस बिष्ट, बैंजरों विवेक सेमवाल, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी दिपेश काला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!