दोस्त ने ही की थी रवि की ईंटों से कुचलकर हत्या, गिरफ्तार

Spread the love

-स्मैक की रकम नहीं देने पर हुआ था विवाद
रुड़की। ढंडेरा के भारत नगर में युवक की ईंटों से कुचलकर हत्या उसके ही दोस्त ने की थी। पुलिस ने 24 घंटों के भीतर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। स्मैक की रकम नहीं देने पर दोस्त का मोबाइल छीना था, जिसे लेकर इनके बीच विवाद हुआ था। शुक्रवार को सिविल लाइंस कोतवाली में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि 11 मार्च की सुबह ढंडेरा के भारत नगर में रवि रावत का शव ईंटों से कुचला हुआ मिला था। पुलिस ने मौके से उसकी कार भी बरामद की थी। पुलिस ने मामले की छानबीन की तो इस मामले में मृतक रवि रावत के दोस्त सुरेंद्र ऐरी उर्फ सूरी निवासी आदर्श शिवाजीनगर ढंडेरा रुड़की का नाम सामने आया था। जिसके बाद कोतवाली प्रभारी निरीक्षक राजेश साह और वरिष्ठ उप निरीक्षक प्रदीप कुमार ने सुरेंद्र ऐरी को हिरासत में ले लिया। पूछताछ की गई तो उसने हत्या की बात कबूल की। आरोपित ने बताया था कि दोनों स्मैक पीने के आदी थे। 10 मार्च की सुबह दोनों कार से पहले इकबालपुर और फिर इसके बाद भगवानपुर गए थे। यहां पर रवि ने अपने दोस्त के माध्यम से स्मैक की व्यवस्था की थी। स्मैक पीने के बाद दोनों रात को ढंडेरा में आ गए। इसी दौरान रवि ने सुरेंद्र का मोबाइल छीन लिया। उसने कहा कि जब तक वह स्मैक के पैसे नहीं देगा तब तक उसका फोन नहीं मिलेगा। इसे लेकर इनके बीच विवाद हुआ। रवि रावत ने उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद सुरेंद्र ने ईंटों से हमला कर रवि को मौत के घाट उतार दिया। यही नहीं उसने कार का शीशा भी तोड़ दिया। आरोपित ने बताया कि उसके कपड़े खून से सन गए थे। उसने कपड़े घर में छिपा दिए। एसपी देहात ने बताया कि उसकी निशानदेही पर खून से सने कपड़े बरामद कर लिए गए। एसएसपी ने घटना का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है।
घटनास्थल पर मिली चेन ने खोला हत्या का राज: एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि पुलिस को घटनास्थल के पास एक चेन मिली थी। जब पुलिस को पता चला कि यह चेन रवि रावत की नहीं है तो पुलिस को आशंका हुई कि यह चेन हत्यारोपित की है। पुलिस ने रवि रावत के दोस्तों के बारे में जानकारी जुटाई। पुलिस को पता चला कि उसका दोस्त सुरेंद्र ऐरी घर से गायब है। पुलिस ने उसका मोबाइल नंबर हासिल किया। पुलिस ने उसके वाट्सएप की प्रोफाइल की जांच की तो सुरेंद्र ऐरी के गले में वहीं चेन पड़ी दिखी, जो कि घटनास्थल से बरामद हुई है। इसके बाद पुलिस का शक यकीन में बदल गया और उसे धर दबोचा।
कहां से खरीदते थे स्मैक इसकी भी होगी जांच
दोनों दोस्त कहां-कहां से स्मैक खरीदकर पीते थे, पुलिस इसकी जांच करेगी। एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि पुलिस की टीम को इस काम में लगाया गया है। इस गिरोह का शीघ्र ही भंडाफोड़ किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!