भूमि बेचने के नाम पर करोड़ों की धोखाधड़ी, बढ़ी पद्मेंद्र की मुश्किलें

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

कुछ दिन पूर्व पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोपी पद्मेंद्र को किया था गिरफ्तार
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार : भूमि बेचने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी करने वाले पद्मेंद्र असवाल की मुसीबतें कम होती नजर नहीं आ रही है। आए दिन पद्मेंद्र के खिलाफ धोखाधड़ी के नए मामले सामने आ रहे हैं। कुछ दिन पूर्व ही पुलिस ने पद्मेंंद्र को राजस्थान से गिरफ्तार किया था।
मालूम हो कि बीईएल कॉलोनी निवासी दीपमाला की ओर से मगनपुर निवासी पद्मेंद्र असवाल पर भूखंड बिक्री के नाम पर उनसे 15 लाख की धनराशि ठगने का आरोप लगाया गया। पुलिस ने दी गई तहरीर के आधार पर पद््मेंद्र के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। बीती पांच जनवरी को पुलिस ने पद्मेंद्र को राजस्थान में जयपुर के सहारा सिटी से गिरफ्तार कर दिया था। पुलिस जिस समय पद्मेंद्र की गिरफ्तारी से संबंधित दस्तावेज तैयार कर रही थी। उसी दौरान पद्मेंद्र के खिलाफ एक ओर मामला दर्ज हो रहा था। प्रखंड रिखणीखाल के अंतर्गत ग्राम मेलधार निवासी प्रमे सिंह ने पद्मेंद्र पर धमंडपुर मोटाढांग में आधा बीघा भूमि बेचने के अवज में 35 लाख की धनराशि हड़पने का आरोप लगाया। अब पद्मेंद्र के खिलाफ ग्राम मदनपुर डाडामंडी निवासी शौभा जानकी डोबरियाल की ओर से मामला दर्ज करवाया है। कहा कि कोटद्वार के हल्दूखाता तल्ला में पद्मेंद्र ने पांच विस्वा भूमि दिलवाने के नाम पर उनसे दस लाख में सौदा तय किया। एक दिसंबर को उन्होंने पद्मेंद्र को आठ लाख का भुगतान किया। लेकिन, भूमि की रजिस्ट्री नहीं की गई। यह भी कहा गया कि उनकी बहन हेमलता डोबरियाल ने पद्मेंद्र को हल्दूखाता में एक विस्वा भूमि दिलवाने के नाम पर बीते वर्ष चार अगस्त को एक लाख रुपये दिए। सात ही बीस हजार रुपये गूगल-पे से ट्रांसफर किए। इसके बाद से लगातार पद्मेंद्र का फोन बंद आ रहा था। वहीं, पद्मेंद्र की पत्नी के खिलाफ भी देहरादून स्थित कन्हैया बिहार निवासी मयंक डोभाल की ओर से पुलिस को तहरीर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!