ग्रास्टनगंज में हाथियों के झुंड ने मचाई तबाही, तोड़ी दीवार और पाइप लाइन

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। पिछले कई दिनों से जंगली हाथियों का झुंड कोटद्वार तहसील के ग्रास्टनगंज क्षेत्र में तबाही मचा रहा है, जिससे लोगों में दहशत है। आये दिन हाथी आवासीय बस्ती व खेतों में घुसकर जमकर उत्पात मचा रहे है। बीती गुरूवार रात को भी हाथियों के झुंड ने ग्रास्टनगंज में उत्पात मचाया। हाथियों ने एक मकान की चाहरदीवारी व पाइप लाइन को क्षतिग्रस्त कर दिया है। स्थानीय लोगों ने रोष व्यक्त करते हुए बताया कि कई बार वन विभाग के अधिकारियों को अवगत कराने के बावजूद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
बीती गुरूवार रात को करीब 9 बजे तीन-चार हाथियों का झुंड ग्रास्टनगंज में घुस गया। लोगों ने बड़ी मुश्किल से हाथियों से जंगल की ओर भगाया। रात लगभग 2 बजे फिर हाथियों का झुंड ग्रास्टनगंज में घुस गया। गंगाराम देवरानी ने बताया कि हाथियों ने उनके आंगन की दीवार क्षतिग्रस्त कर दी। उन्होंने वन विभाग से मौका मुआयना कर उचित मुआवजा देने की मांग की है। देवव्रत नैथानी ने बताया कि हाथियों ने उनकी पाइप लाइन तोड़ दी है। जिस कारण घर में पानी की आपूर्ति ठप हो गई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से प्रतिदिन हाथियों का झुंड खेतों में घुसकर फसल को बर्बाद कर रहा है। जिस कारण काश्तकारों को काफी नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि वह पिछले कई वर्षों से हाथियों के आतंक से निजात दिलाने की मांग कर रहे है, लेकिन जिम्मेदार इस ओर ध्यान देने को तैयार नहीं है।
ज्ञात हो कि गत बुधवार को सुबह करीब चार बजे हाथियों का झुंड जंगल से निकलकर उद्यान विभाग के बगीचे में पहुंच गया था। हाथियों ने बगीचे में आम की टहनियों को तहस-नहस कर दिया था। साथ ही छोटे-छोटे पौधों को भी नुकसान पहुंचाया था। आसपास के व्यक्तियों की नजर जब हाथियों के झुंड पर पड़ी तो उन्होंने एकजुट होकर शोर मचाते हुए उन्हें जंगल की ओर खदेड़ने का प्रयास किया था। बड़ी मश्क्कत के हाथियों को जंगल की ओर भगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!