श्रीलंका में पीएम महिंदा का इस्तीफा, सत्तारूढ़ दल के सांसद व उनके पीएसओ की मौत, राजधानी में सेना हुई तैनात

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

कोलंबो, एजेंसी। श्रीलंका में सोमवार को सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों व समर्थकों में भिड़ंत के कुछ घंटे बाद प्रधानमंत्री महिदा राजपक्षे ने पद से इस्तीफा दे दिया। दो कैबिनेट मंत्रियों ने भी इस्तीफे का एलान किया है। राष्ट्रपति कार्यालय के बाहर हुए संघर्ष में कम से कम 130 लोगों के घायल होने की सूचना है। उत्तर पश्चिमी शहर निट्टंबुवा में हुई गोलीबारी में सत्तारूढ़ दल के सांसद अमरकीर्ति अथुकोरला व उनके निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) मारे गए। हालात को देखते हुए देशव्यापी कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। राष्ट्रीय राजधानी कोलंबो में सेना तैनात कर दी गई है। पुलिसकर्मियों की टुट्टियां रद कर दी गई है। तीनों सेनाओं को पुलिस की मदद के लिए कहा गया है।
राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे व प्रधानमंत्री ने हिसा की निंदा करते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। महिंदा (76) ने राष्ट्रपति गोटाबाया को इस्तीफा सौंपने की जानकारी खुद ट्विट करके दी। गोटाबाया उनके छोटे भाई हैं। उन्होंने अपने इस्तीफे में कहा कि वह अपना पद इसलिए छोड़ रहे हैं, ताकि सर्वदलीय अंतरिम सरकार के गठन का मार्ग प्रशस्त हो सके।
इससे पूर्व महिंदा के इस्तीफे की खबरों से उनके समर्थक भड़क उठे। डेली मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, महिदा समर्थकों ने प्रधानमंत्री आवास के बाहर प्रदर्शन स्थल मैनागोगामा पर मौजूद प्रदर्शनकारियों पर हमला बोल दिया। भीड़ ने टेंट को भी ध्वस्त कर दिया। यहां महिंदा के इस्तीफे की मांग को लेकर 31 दिनों से शांतिपूर्ण प्रदर्शन चल रहा था।
पुलिस ने मानव श्रृंखला बनाकर भीड़ को एक अन्य प्रदर्शन स्थल गोटागोगामा में घुसने से रोकने की कोशिश की, लेकिन सत्तारूढ़ श्रीलंका पोडुजाना पेरामुना (एसएलपीपी) के समर्थक पुलिस को धक्का देते हुए वहां घुस गए और सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों पर हमला बोल दिया। गाले फेस इलाके में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को वाटर कैनन का इस्तेमाल करना पड़। कोलंबो पेज की रिपोर्ट के अनुसार महिदा के समर्थक बसों में भरकर लाए गए थे।
राष्ट्रपति गोटाबाया ने ट्वीट किया, श्मैं हिंसक गतिविधियों, हिसा करने वालों व उसे भड़काने वालों की निंदा करता हूं। हिंसा मौजूदा स्थितियों का समाधान नहीं है। मैं सभी नागरिकों से शांत रहने व संयम बरतने की अपील करता हूं।श् पीएम महिदा ने कहा, श्इस समय जबकि भावनाएं चरम पर हैं, मैं लोगों से शांति व संयम बनाए रखने की अपील करता हूं।श्
उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को गोटाबाया ने कैबिनेट की विशेष बैठक के बाद आधी रात को आपातकाल का एलान कर दिया था। उन्होंने डेढ़ महीने के भीतर दूसरी बार आपातकाल लागू किया है। श्रीलंका फिलहाल अभूतपूर्व आर्थिक संकट व राजनीतिक अस्थिरता के दौर से गुजर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!