जून-जुलाई माह में होंगे तीन ग्रहण

Spread the love

-जून महीने में सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों, जुलाई में एक चंद्र ग्रहण
संवाददाता, हरिद्वार। आने वाले दो महीनों में तीन ग्रहण लगेंगे। इसमें जून महीने में सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों हैं, वहीं जुलाई में एक चंद्र ग्रहण होगा। इस तरह कुल मिलाकर जून और जुलाई में तीन बड़े ग्रहण लग रहे हैं। इसमें पहला चंद्र ग्रहण 5 जून को लगेगा और उसके बाद 21 जून को सूर्य ग्रहण है। वहीं इसके बाद पांच जुलाई को फिर से चंद्र ग्रहण लगेगा। बता दें कि इससे पहले 10 जनवरी को साल का पहला ग्रहण लग चुका है। पंडित शक्तिधर शास्त्री ने बताया कि इस साल कुल 5 ग्रहण लगेंगे। जून में लगने वाले दोनों ही ग्रहण भारत में दिखाई देंगे। जबकि जुलाई वाला ग्रहण अमेरिका, दक्षिण पूर्व यूरोप और अफ्रीका में दिखाई देगा। वहीं 21 जून को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत, दक्षिण पूर्व यूरोप और एशिया में दिखाई देगा। इस दिन धर्मनगरी में गंगा स्नान भी होता है। 21 जून सबसे बड़ा सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई देगा। कोरोना वायरस के कारण ग्रहण के बाद स्नान को बाहर के व्यक्ति नहीं पहुंच पाएंगे। ये होंगे तीनों ग्रहण के समय 5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण 3 घंटे 18 मिनट का होगा। यह एक पीनम्ब्रल(खंड छायायुक्त) चंद्र ग्रहण होगा, जिसमें आमतौर पर एक पूर्ण चंद्रमा से अंतर करना मुश्किल होता है। यह चंद्र ग्रहण 5 जून को रात 11.15 बजे से शुरू होगा। रात 12.54 बजे इसका सबसे ज्यादा असर दिखाई देगा और 6 जून 2.34 बजे समाप्त हो जाएगा। वहीं 21 जून के सूर्यग्रहण का आंशिक ग्रहण सुबह 9.15 पर शुरू होगा। 12.10 पर अधिकतम ग्रहण और दोपहर 3.04 बजे आंशिक ग्रहण समाप्त होगा। 5 जुलाई को चंद्र ग्रहण सुबह 8.38 बजे से 11.21 बजे तक रहेगा। ज्योतिषियों की ग्रहण पर नजर इस साल के सूर्य ग्रहण पर सबसे ज्यादा ज्योतिषियों की नजर है, क्योंकि यह ग्रहण मिथुन राशि में लगेगा। 21 जून को लगने वाले ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले ही लग जाएगा। इस साल पड़ने वाले ग्रहण बहुत महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं। ज्योतिषियों के अनुसार इन ग्रहण से मिथुन राशि के जातकों पर विशेष प्रभाव पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!