कोटद्वार का प्रसिद्ध सिद्धबली मंदिर ढाई माह बाद खुला श्रद्धालुओं के लिए

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। अनलॉक-1 के पार्ट 2 की गाइड लाइन जारी होने के बाद मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरूदारा को भी श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है। सोमवार को करीब ढ़ाई माह के बाद प्रसिद्ध सिद्धबली मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है। हालांकि सोमवार को पहले दिन बहुत ही कम संख्या में श्रद्धालुओं ने बाबा के दर्शन किये। मंदिर समिति की ओर से शासन की ओर से जारी गाइड लाइन का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है।
कोटद्वार के प्रसिद्ध सिद्धबली मंदिर में सामान्य दिनों में यहां पर श्रद्धालुओें की भीड़ रहती थी। कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए केन्द्र/राज्य सरकार की ओर से प्रदेश को लॉकडाउन किया गया था। लॉकडाउन के कारण अन्य मंदिरों की भांति सिद्धबली मंदिर में भी ताले लटक गए। राज्य सरकार की ओर से गाइड लाइन जारी होने के बाद सोमवार से मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है। सोमवार को मंदिर में अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना जताई जा रही थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण श्रद्धालुओं ने मंदिर जाने से परहेज किया। सोमवार को बहुत कम संख्या में श्रद्धालुओं ने मंदिर पहुंचकर सिद्धबाबा का आशीर्वाद लिया। मंदिर समिति के प्रबन्धक शैलेश कुमार जोशी ने बताया कि मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर श्रद्धालुओं के लिए सेनेटाइजर की व्यवस्था की गई है। थर्मल स्क्रीनिंग भी श्रद्धालुओं की जा रही है। सामाजिक दूरी बनाने के लिए मंदिर परिसर में गोले बनाये गये है। मंदिर परिसर को प्रतिदिन सेनेटाइज कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के बार्डर बंद होने की वजह से श्रद्धालुओं की संख्या अभी कम है। उन्होंने श्रद्धालुओं से मास्क पहकर ही मंदिर में प्रवेश करने, मंदिर परिसर में किसी भी मूर्ति अथवा रैलिंग को स्पर्श न करने, उचित दूरी बनाये रखने, मंदिर में घंटी न बजाने, मंदिर परिसर में वेवजह भीड़ न लगाने, मंदिर की दीवारों को स्पर्श न करने की अपील की है। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन04: प्रसिद्ध सिद्धबली मंदिर में दर्शन करते हुए श्रद्धालु।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!