लोकसभा से कांग्रेस का वकआउट, कहा- हमारे सवालों से डरती है सरकार

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। मानसून सत्र के दूसरा दिन भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लोकसभा में बयान दिया। इसे लेकर कांग्रेस के सासंदों ने सदन से वकआउट कर दिया। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने कहा है कि हमें सदन में बोलने नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि सरकार भारत-चीन मुद्दे पर बात करने से भाग रही है। हम दो लाइन बोलना चाहते थे सरकार चर्चा करने से क्यों भाग रही है। पूरी दुनिया चर्चा होती है हमारी सदन में चर्चा हो सकती है। हमें यह अपना अधिकार क्यों नहीं दिया जाता है। हम भी यहां के नागरिक हैं।
जैसा की जाहिर था, कांग्रेस के सांसदों ने लोकसभा से वकआउट कर दिया। अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि चीन को लेकर हम चर्चा की मांग शुरू से कर रहे हैं, लेकिन हमारी बात नहीं मानी गई। सरकार चर्चा करने से क्यों भाग रहे है़ पूरी दुनिया में चर्चा होती है तो हमारी सदन में चर्चा नहीं हो सकती़ हमें यह अपना अधिकार क्यों नहीं दिया जाता?
राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों को यथास्थिति बनाए रखना चाहिए और शांति और सद्भाव सुनिश्चित करना चाहिए। चीन भी यही कहता है लेकिन तभी 29-30 अगस्त की रात्रि में फिर से चीन ने पैंगोंग में घुसने की कोशिश की लेकिन हमारे सैनिकों ने प्रयास विफल कर दिए। मैं सदन को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सीमाएं सुरक्षित हैं और हमारे जवान मातृभूमि की रक्षा में डटे हुए हैं।
रक्षा मंत्री ने कहा कि यह सदन अवगत है चाईना, भारत की लगभग 38,000 स्क्वायर किलोमीटर भूमि का अनधित कब्जा लद्दाख में किए हुए है। इसके अलावा, 1963 में एक तथाकथित बाउंडरी एग्रीमेंट के तहत, पाकिस्तान ने च्वज्ञ की 5180 स्क्वायर किलोमीटर भारतीय जमीन अवैध रूप से चाईना को सौंप दी है। यह भी बताना चाहता हूँ कि अभी तक भारत-चीन के बर्डर इलाके में कमनली डेलीनिएटिड स्।ब् नहीं है और स्।ब् को लेकर दोनों की धारणा अलग-अलग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!