मानव जीवन में वृक्ष का अहम योगदान: हरक

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। प्रदेश वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने पौधा रोपकर हरेला पर्व का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि वृक्ष मानव को आक्सीजन के रूप में
जीवन देते हैं। वृक्ष की मानव जीवन में अहम भूमिका है। पर्यावरण संरक्षण के लिए आमजन को अपने दायित्व निभाने चाहिए। इस दौरान महिलाओं ने वन मंत्री से
हाथियों के खेतों में घुसकर फसल को नुकसान पहुंचाने की शिकायत की। जिस पर मंत्री ने वन विभाग के एसडीओ को सुरक्षा दीवार बनाने के लिए प्रस्ताव जल्द
बनाने को कहा। मंत्री ने सनेह क्षेत्र में प्रस्तावित ईको टूरिज्म पार्क व बाढ़ सुरक्षा दीवार का निरीक्षण किया।
भारतीय जनता पार्टी के जिला संयोजक सोशल मीडिया कैलाश खुल्वे ने बताया कि स्व. मनमोहन सिंह झिंक्वाण की स्मृति में ग्रास्टनगंज के जंगलों में
हरेला सप्ताह के उपलक्ष में वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत, त्रिभुवन झिंक्वाण के साथ महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं व
स्थानीय लोगों ने विभिन्न प्रजाति के 200 पौधे रोपे। जिसमें आंवला, जामुन, हरड़, बहेड़ा, रीठा आदि प्रजाति के पौधे शामिल थे। मंत्री ने पौधरोपण करने के बाद
कहा कि सभी को पर्यावरण संरक्षण के लिए आगे आना चाहिए। यदि हमें पर्यावरण को बचाना है तो न केवल तीव्र गति से बढ़ते प्रदूषण को रोकना होगा, बल्कि
इसके साथ ही अधिक से अधिक पेड़ लगाकर आने वाली पीढ़ी को एक हरा-भरा पर्यावरण प्रदान करने के लिए अभी से प्रयास करने होगें। वन मंत्री ने उत्कृष्ट
कार्य करने वाले वन विभाग के कर्मचारियों को 11 हजार की धनराशि नगद पुरस्कार स्वरूप भेंट की। इस अवसर पर पूर्व प्रधान विजयेश्वरी झिंक्वाण, राजीव पटवाल,
ऋषभ रावत, विकास डबराल, जय प्रकाश ध्यानी, सूर्य प्रकाश भारद्वाज, अरूण डोबरियाल, राजेश रावत, गोपाल जखमोला, एसडीओ जीसी वेलवाल, प्रशिक्षु रेंजर शीतल
आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!