सांसद नरेश बंसल ने ली दून लाईब्रेरी सभागार में जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

देहरादून। मा0 राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने दून लाईब्रेरी सभागार में जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मा0 सांसद ने संबंधित रेखीय विभागों से सड़क सुरक्षा कार्यों की क्रमवार प्रगति की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार दुर्धटनाओं की रोकथाम हेतु गंभीर है इसको रोकनेध्कम करने हेतु निरंतर प्रयासरत है जिसके क्रम में सुधारीकरण कार्य गतिमान है। इस दौरान 3 जागरूकता वाहन रवाना किए गए जो सप्ताहभर घूमते हुए सड़क सुरक्षा के प्रति जनमानस को जागरूक करेंगे।
माननीय राज्यसभा सासंद नरेश बंसल ने कहा कि माननीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में व माननीय केन्द्रीय सड़क एंव परिवहन मंत्री नितिन गढकरीजी के कुशल नेतृत्व मे भारत सरकार द्वारा जनपदों से अपेक्षा की गई है प्रयास करें कि यह सड़क सुरक्षा सप्ताह ‘‘जीरो फेटेलीटी’’ सप्ताह हो। सांसद बंसल ने जिलाधिकारी देहरादून व उनकी टीम से सड़क दुर्घटनाओं मे कैसे पिछले दो वर्षों से 50 प्रतिशत् की कमी आए इस पर योजना बनाने के लिए निर्देशित किया साथ ही इस परिपेक्ष्य में हर माह की रिपोर्ट देने को कहा जिससे 50 प्रतिशत् तक सड़क दुर्घटनाओं मे कमी आ सके।
मा0 राज्यसभा सांसद ने ब्लैक स्पट चिन्हिीकरण एवं सुधारीकरण, पार्किंग व्यवस्था, नो पार्किंग एवं रैस ड्राईविंग पर की गई चालान की कार्यवाही, साईनबोर्ड, जागरूकता हेतु चलाए गए कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सड़क किनारे खड़े वाहनों पर सीधे चालान की कार्यवाही न करते हुए पहले वाहन हटाने हेतु चेतावनी जारी करें। ताकि लोगों को अनावश्यक परेशान न होना पड़े। कई बार लोगों को आकस्मिक स्थिति में वाहन को नो पार्किंग में पार्क करना पड़ जाता है, ऐसे में चालान से पूर्व चेतावनी अवश्य दें। उन्होंने सड़क सुरक्षा हेतु कॉलेजों में नियमित जागरूकता अभियान चलाने हेतु कार्यशाला आयोजित करते हुए छात्र-छात्राओं को सुरक्षित वाहन चलाने तथा हेलमैट, सीटबैल्ट लगानें के साथ ही रैस ड्राईव से बचने हेतु प्रेरित करें, ताकि नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित सफर किया जाए। तथा किसी प्रकार का खतरा न रहे। उन्होंने इसके लिए अभिभावकों को भी जागरूक करें ताकि वह नाबालिक बच्चों को वाहन दें। उन्होंने परिवहन विभाग को कार्यालयों में दलालों की गतिविधि पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए। साथ ही लोक निर्माण विभाग, पुलिस, एनएच, एनएचआई विभागों द्वारा संयुक्त सर्वे रिपोर्ट की जानकारी प्राप्त करते हुए संबंधित विभागों को एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट में उठायी गई समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए।
उन्होंने अधिकारियों को बैठक में दिए गए निर्देशों को गंभीरता से लेते हुए परिपालन के निर्देश दिए ताकि बढ़ती दुर्घटनाओं को कम किया जा सके। कहा कि देश में प्रतिवर्ष डेढ़ लाख लोग अपनी जान गवांते है तथा चार लाख से अधिक लोग घायल हो जाते है इस आंकड़े को कम करने हेतु सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे है। मुख्य विकास अधिकारी ने बैठक में प्रतिभाग न करने वाले विभागीय अधिकारियों का स्पष्टीकरण तलब किया। बैठक में अवगत कराया गया कि जनपद में कुल 49 ब्लैक स्पाट चिन्हित किए गए जिनमें से 30 ब्लैक स्पट ठीक कर लिए गए है 19 ब्लैक स्पट पर कार्य गतिमान है। इसी प्रकार जनपद में वर्ष 2021 में 135934 तथा वर्ष 2022 में 161520 कुल 297454 चालान वर्ष-2021-22 में किए गए है। माननीय सांसद ने दुर्घटना के मुख्य कारक ओवरलोडिंग एवं ओवर स्पीड पर प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सुश्री झरना कमठान,अपर जिलाधिकारी प्रशासन ड एस के बरनवाल, महानगर अध्यक्ष भाजपा सिद्वार्थ अग्रवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी ड मनोज कुमार उप्रेती, संभागीय परिवहन अधिकारी देहरादून शैलेश तिवारी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी अरविन्द पाण्डेय व एन के ओझा, सहायक निदेशक सूचना बी़सी नेगी, पुलिस क्षेत्राधिकारी नीरज सेमवाल, एनएच डोईवाला अमित कुमार वर्मा, लो़नि़वि से राजेन्द्र पाल, टीटीओ एमडी पप्पन, बेसिक शिक्षा अधिकारी विनोद कुमार, सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!