नित्य योग करे स्वस्थ रहे और कोरोना बीमारी से दूर रहे: डॉ. रवि नेगी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोरोना महामारी का असर विश्व योग दिवस पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर भी पड़ रहा है। कोटद्वार में योग दिवस पर मालवीय उद्यान समेत अन्य जगहों पर सार्वजनिक कार्यक्रम होते थे, लेकिन इस वर्ष विश्व योग दिवस पर कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं हो पा रहा है। आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा वर्ष 2020 के अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस का विषय योग ऐट होम एंड योगा विद फेमिली निर्धारित किया गया है। रविवार को विश्व योग दिवस पर सभी लोग अपने घर पर ही योग करेगें।
डॉ. रविन्द्र सिंह नेगी योगाचार्य, भारत स्वाभिमान पतंजलि योगपीठ का कहना है कि योग हमारे भारत की एक अदभुद ओर प्राचीन धरोहर है, जिसको हमारे महान ऋषि मुनियों ने हमें विरासत में प्रदान किया है। पौराणिक ग्रंथो से हमें ज्ञात हुआ है कि सबसे पहले आदियोगी भगवान शंकर रहे, जिनके द्वारा योग विद्या सप्तऋषियों को बताई गई। इन महान ऋषयो द्वारा योग विद्या को इस पृथ्वी पर लाया गया, जिससे जनमानस का कल्याण हो सके, तब ऋषियों द्वारा अपने गुरुकुल आश्रम में शिष्यों को योग विद्या का ज्ञान प्रदान किया गया। फिर धीरे-धीरे योग का विस्तार होने लगा। इसी दिशा में देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा योग को विश्व योग दिवस के रूप में 21 जून 2015 से शुरू कराया गया। डॉ. नेगी ने कहा कि इस महान धरोहर को पूरे विश्व ने अपनाया। आज सभी देशों में योगाभ्यास किया जाता है। जिससे सभी लोगो को बहुत लाभ हो रहा है। आज संपूर्ण विश्व कोरोना नामक महामारी से ग्रसित है जिसकी अभी तक विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोई भी दवाई तैयार नहीं हो पाई है, ऐसे में हमारी प्राचीन धरोहर योग ही हमको इस बीमारी से स्वस्थ रख पाएगी, क्योंकि नित्य योगाभ्यास करने से मानव की इम्युनिटी में बढ़ोतरी होती है, जिसमें सभी प्रकार के वायरस से लड़ा जा सकता है। उन्होंने कहा कि नित्य योग करे स्वस्थ रहे और कोरोना नामक बीमारी से दूर रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!