सिमली बेस अस्पताल को मेडिकल कलेज बनाने का प्रस्ताव पारित

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

 

चमोली। साल 2019 में हुए पंचायत चुनावों के बाद आयोजित पहली बैठक में पंचायत प्रतिनिधियों ने सड़क, बिजली, पेयजल, स्वास्थ्य सहित अन्य जनहित के मुद्दों को प्रमुखता से उठाया। वहीं क्षेत्र पंचायत सदस्य बृजेश बिष्ट द्वारा सिमली बेस अस्पताल को मेडिकल कालेज बनाए जाने की मांग के प्रस्ताव को ध्वनिमत से पारित किया गया। बुधवार को विकासखंड सभागार में प्रमुख चंद्रेश्वरी देवी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में कोटीबैंड- घतौड़ा सड़क, सिमली मोटर और झूला पुल, डिम्मर-सुमल्टा, जयकंडी-मैखुरा, सिरण-एंड, कर्णप्रयाग-नैंनीसैंण, कर्णप्रयाग-नौटी सहित कई सड़कों के मामले उठे। वहीं स्वीत जयकंडी-सिरतोली सड़क के निर्माण जल्द करने की मांग भी उठाई गई। बैठक में सदस्यों ने विकासखंड के कुनेथ, मैखुरा, बसक्वाली सहित कई गांवों में पेयजल संकट, बिजली के जर्जर पोलों को बदलने के साथ ही कर्णप्रयाग में ब्लड बैंक खोलने, ईसीजी मशीन की व्यवस्था करने की मांग भी उठाई गई। वहीं सदन में लंबे समय से ग्राम्य विकास अधिकारियों के तबादले पर अमल न होने की बात भी उठाई गई। क्षेत्र पंचायत सदस्य जयविशाल ने विकासखंड में किसी प्रकार के काम न होने पर इस्तीफे की चेतावनी दी। वहीं बैठक में शामिल विधायक अनिल नौटियाल ने अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण करने, जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर विकास के काम करने के साथ ही एक सप्ताह में सभी विभागों की कार्ययोजनाएं उन्हें देने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला पंचायत सदस्य विनोद नेगी, ज्येष्ठ उपप्रमुख प्रदीप चौहान, कनिष्ठ उपप्रमुख अनीता सेमवाल, प्रधान संघ अध्यक्ष सुशील खंडूड़ी, महामंत्री गौतम मिंगवाल, बीडीसी ध्यान सिंह, क्षेत्र पंचायत संदीप डिमरी, अंजना देवी, लक्ष्मी प्रसाद मैखुरी, कुलदीप बिष्ट, पुष्पा भंडारी, एडीओ पंचायत एमएम नगवाल, लोनिवि के एई अमित पटेल, पूर्ति निरीक्षक वीपी ध्यानी, रेंजर एनके नेगी सहित जनप्रितिनिधि एवं अधिकारी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!