पुराने स्वरूप में लौटेगा अल्मोड़ा का ऐतिहासिक मल्ला महल

Spread the love

अल्मोड़ा। जिले में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने व ऐतिहासिक मल्ला महल स्थित कलक्ट्रेट परिसर में पुनर्निर्माण कार्यो पर मंथन के लिए कार्यशाला हुई। सीडीओ मनुज गोयल ने कहा कि कलक्ट्रेट को हैरिटेज व कल्चर सेंटर बनाने की योजना है। ऐतिहासिक मल्ला महल को उसके पुराने स्वरूप में लाने के बाद इसे पर्यटन गतिविधियों से जोड़ा जाएगा ताकि सैलानियों को सांस्तिक नगरी के इतिहास, राजवंश आदि के बारे में जानकारी मिल सके। साथ ही नागरिकों से सुझाव भी लिए जाएंगे।
उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद की पहल पर गुरुवार को विकास भवन सभागार में कार्यशाला हुई। परिषद की सीमा शर्मा ने पावर प्वाइंट के जरिये पुनर्निर्माण कायरें का ब्योरा दिया। कहा कि ऐतिहासिक स्थल को बगैर किसी टेड़छाड़ के पुराना स्वरूप दिया जा रहा है। इससे अल्मोड़ा की ऐतिहासिकता भी सामने आएगी।
यह भी कहा कि मल्ला महल में म्यूजियम, कुमाऊंनी कैफे, आर्ट गैलरी, पर्यटक सूचना केंद्र आदि स्थापित किए जाएंगे। पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चौबे, परियोजना निदेशक नरेश कुमार, होटल एसोशिएशन अध्यक्ष पूरन सिंह अधिकारी, सचिव हरीश जोशी, पूर्व अध्यक्ष राजेश बिष्ट आदि ने भी सुझाव दिए। कार्यशाला में जीएम उद्योग ड़ दीपक मुरारी, सहायक प्रबंधक आजीविका प्रदीप सिंह गुसाई, प्रबंधक होलीडे होम शीला साह, किरन आर्या, श्वाति राय, शीला तिवारी, गगन अरोड़ा, प्रीति भंडारी, वंदना सिंह, गीताजंली, कमला बिष्ट आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!