राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार-2020 हेतु 30 सितंबर तक करें आवेदन

Spread the love

अल्मोड़ा। राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार-2020 के लिए साहसी बालक एवं बालिकाएं 30 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं। उत्तराखंड राज्य बाल कल्याण परिषद ने अपनी जान जोखिम में डालकर दूसरों की जान बचाने वाले वीर बच्चों के आवेदन मांगे हैं। इसके लिए बच्चों की उम्र छह से 18 वर्ष के बीच की होनी चाहिए। साहसिक कार्य या घटना की अवधि एक जुलाई 2019 से 30 सितंबर 2020 के बीच की होनी चाहिए। बच्चों की उम्र 6 से 18 वर्ष के बीच की होनी चाहिए। परिषद के अल्मोड़ा शाखा के उपाध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने बताया कि प्रदेश के विद्यालयों में अध्यनरत छात्र-छात्राएं जिन्होंने अपनी जान जोखिम में डाल दूसरों की रक्षा की है, किसी दुर्घटना अपराथ को रोकने के लिए साहसिक कार्य किए है। ऐसे बच्चों को राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार प्रदान किया जाना है। उन्होंने बताया कि आवेदन पत्र तीन प्रतियों में 30 सितंबर तक महासचिव उत्तराखंड राज्य बाल कल्याण परिषद बाल भवन आमवाला तरला ननूरखेड़ा रायुपर देहरादून पहुंचने हैं। बताया कि आवेदन पत्र के साथ ही फोटो, जन्म तिथि प्रमाण पत्र, साहसिक कार्य और घटना से संबंधित 250 शब्दों की आख्या प्राथमिक रिपोर्ट और समाचार पत्र में प्रकाशित खबर की छाया प्रति संलग्न करनी होगी। उन्होंने बताया कि आवेदन पत्र 30 सितंबर से पहले किसी भी कार्य दिवस पर पालिका कार्यालय अल्मोड़ा से प्राप्त किए जा सकते है। चयन होने पर वीर बालक-बालिका को भारतीय कल्याण परिषद नई दिल्ली की ओर से केश, अवार्ड, मेडल, प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इसके साथ ही आर्थिक सहायता कक्षा 12वीं तक प्राप्त होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!