सभी तेरह अखाड़ों को धर्मध्वजा के लिए शीइा्र लकड़ी उपलब्ध कराए मेला प्रशासन-श्रीमहंत नरेंद्र गिरी

Spread the love

डीजीपी ने की अखाड़ा परिषद अध्यक्ष से कुंभ मेले की व्यवस्थाओं पर चर्चा
हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने कहा है कि कुंभ मेला प्रारंभ होने में बहुत कम समय शेष रह गया है। मेला प्रशासन को टेंट व कैंप की व्यवस्था जल्द से जल्द उपलब्ध करानी चाहिए। श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी में प्रेस को जारी बयान में श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने कहा कि मेला अधिकारी दीपक रावत से उनकी फोन पर चर्चा हुई है। जिसमें मेला अधिकारी ने बताया कि टेंट, पार्किंग की व्यवस्था हेतु बैरागी कैंप सहित संपूर्ण मेला क्षेत्र में मिट्टी का समतलीकरण किया जा चुका है। बिजली, पानी, शौचालय सहित सभी मूलभूत सुविधाएं सभी अखाड़ों को प्रदान की जाएंगी। हालांकि अभी कैंप और टेंट लगाने को लेकर टेंडर जारी नहीं किया गया है। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग की है कि जल्द से जल्द टेंडर जारी कर टेंट व कैंप की व्यवस्था उपलब्ध कराई जाए। जिससे समय पर सभी कार्य पूर्ण हो सकें। उन्होंने कहा कि तीनों बैरागी अनियों के लिए भी जमीन की व्यवस्था की जा रही है। जिससे बैरागी संतो को किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े। श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि वह जल्द ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात करेंगे। कुंभ के दौरान आने वाले श्रद्घालु भक्तों एवं संतो से श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने आग्रह किया है कि मेले के दौरान सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन अवश्य करें और अपनी कोरोना संक्रमण जांच करा कर ही कुंभ मेले में प्रवेश करें। हालांकि उत्तराखंड सरकार भी कोरोना जांच की व्यवस्था श्रद्घालु भक्तों के लिए कराएगी। लेकिन फिर भी सभी श्रद्घालु भक्तों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सतर्कता बरतनी आवश्यक है। श्रीहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने मेला प्रशासन एवं वन विभाग से मांग की है कि जल्द से जल्द सभी तेरह अखाड़ों को राजाजी नेशनल पार्क ले जाकर धर्म ध्वजा की लकड़ी का अवलोकन करा कर लकड़ी उपलब्ध कराएं। क्योंकि धर्म ध्वजा की लकड़ी को सूखने में भी लगभग 2 माह का समय लगता है। सर्दी के मौसम को देखते हुए जल्द से जल्द मेला प्रशासन सभी 13 अखाड़ों को को धर्म ध्वजा की लकड़ी उपलब्ध कराए। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने कहा कि मेला दिव्य और भव्य रुप से संपन्न होगा। कोरोना महामारी से हम सभी जीतेंगे। कुंभ के दौरान संत महापुरुष भजन करेंगे। हवन यज्ञ एवं धार्मिक अनुष्ठान आयोजित होंगे। जिससे कोरोना वायरस जल्द समान्त होगा। श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि प्रयागराज में आयोजित होने वाला माघ मेला दिव्य व भव्य रुप से आयोजित हो रहा है। पूर्व की भांति ही सारी व्यवस्थाएं संतो को उपलब्ध कराई जा रही हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने संतों की परंपरा का पालन कराने का निर्देश सभी अधिकारियों को दिया। उन्होंने कहा कि प्रयागराज की तर्ज पर ही उत्तराखंड सरकार कुंभ मेले की व्यवस्थाएं उपलब्ध कराएं। उन्हें पूरा विश्वास है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत संतो के बहुत प्रेमी है और वे तत्काल मेला अधिकारी को निर्देश दे कि टेंट व कैंप की व्यवस्था सुचारू रूप से की जाए। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज ने सभी तेरह अखाड़ों के संत, आचार्य महामंडलेश्वर, महामंडलेश्वर एवं सभी आश्रमों के संत महात्मा से कहा कि कोई भी भ्रम में ना रहे कुंभ मेला भव्य रुप से ही संपन्न होगा और पूरा विश्व 2021 का कुंभ देखेगा। सभी तेरह अखाड़ों के संत शासन प्रशासन एवं मुख्यमंत्री कुंभ मेले को दिव्य रूप से कराने का पूरा प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से कुंभ मेला आईजी मेला संपन्न कराने में पूरी तरह कटिबद्घ है। प्रदेश के डीजीपी से भी उनकी बात हुई है। सभी श्रद्घालु भक्त निश्ंिचत होकर कुंभ मेले के दौरान हरिद्वार आए और मां मनसा देवी, मां चंडी देवी, महामाया देवी एवं दक्ष प्रजापति सहित सभी धर्म स्थलों का दर्शन कर पतित पावनी मां गंगा में स्नान कर स्वयं को पुण्य का भागी बनाएं।
आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि कुंभ मेला सनातन धर्म का सबसे बड़ा पर्व है। कुंभ मेले की व्यवस्थाएं इस प्रकार की होनी चाहिए कि कुंभ मेला विश्व पटल पर अपनी छाप अनोखे रूप से बना सके। उन्होंने कहा कि प्रयागराज की तर्ज पर मेला प्रशासन को मेले की व्यवस्था करनी चाहिए। संत महापुरूषों व प्रशासन के समन्वय से ही मेला दिव्य रूप से संपन्न होगा।
मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि कुंभ मेला करोड़ों श्रद्घालु भक्तों की आस्था का केंद्र है। जो बारह वर्षो के लंबे समय अंतराल के बाद आता है। संत महापुरूषों के साथ साथ श्रद्घालु भक्त भी कुंभ मेले के आयोजन की लंबी प्रतीक्षा करते हैं। मेले को दिव्य व भव्य बनाने के लिए मेला प्रशासन को हृदय से काम करना चाहिए। क्योंकि कुंभ मेले से श्रद्घालु भक्तों के साथ साथ बाहर से आने वाले संत महापुरूषों की आस्था भी जुड़ी है। इस दौरान श्रीमहंत रामरतन गिरी, श्रीमहंत लखन गिरी, महंत नरेश गिरी, महंत मनीष भारती, महंत राधे गिरी, स्वामी निरजानंद सरस्वती आदि भी मौजूद रहे।
डीजीपी अशोक कुमार व कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल तथा डीआईजी गढ़वाल नीरू गर्ग ने पुलिस के आला अधिकारियों के साथ श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी पहुंचकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी, महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरी, आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी, मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष से भेंटकर कुंभ मेले की व्यवस्थाओं पर चर्चा की और आशीर्वाद लिया। इस दौरान एसएसपी सेंथिल अबदुई कृष्णराज एस, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ सिटी पूर्णिमा गर्ग आदि अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!