शुक्ला ने किया बार एसोसिएशन के नए अध्यक्ष का विरोध

Spread the love

चम्पावत। पूर्णागिरि बार एसोसिएशन के नए अध्यक्ष का चुनाव विवादों में आ गया है। बार एसोसिएशन के नए अध्यक्ष उमेश डुंगिरिया के शपथ लेने के बाद पूर्व अध्यक्ष विजय शुक्ला ने इसे नियमों के खिलाफ बताया है। शुक्ला ने नए अध्यक्ष बनाए जाने का पुरजोर विरोध किया है। उन्होनें विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि जब चुनाव हुए थे तब उन्हें आपसी सहमति से छह माह के लिए अध्यक्ष चुना गया था। कहा कि उनका कार्यकाल शपथ ग्रहण के दिन से छह माह के लिए था। आरोप लगाया कि बार-बार आग्रह किए जाने के बावजूद भी चुनाव अधिकारी सुरेश चंद व उपचुनाव अधिकारी शंकर दत्त भट्ट ने उन्हें अध्यक्ष पद की शपथ नहीं दिलाई। कहा कि जब उन्होंने शपथ ही नहीं ली तो कार्यकाल खत्म होने का सवाल ही पैदा नहीं होता। उन्होंने नए अध्यक्ष के चुनाव को कानून के विरुद्ध बताया है। शुक्ला ने दावा किया कि उनके साथ तमाम अन्य अधिवक्ता भी इस चुनाव का विरोध कर रहे हैं।
18-19 अधिवक्ताओं की सर्वसम्मति से मुझे सोमवार को बार एसोसिएशन का पदभार सौंपा गया है। अब पूर्व अध्यक्ष इस पर आपत्ति जता रहे हैं और वह इसके लिए स्वतंत्र भी हैं। उनका कार्यकाल विधिवत पूरा हो गया है। उनके राजी होने या ना होने से कोई फर्क नहीं पड़ता। चुनाव अधिकारियों ने नियमों के तहत ही फैसला लिया है। – उमेश चंद्र डुंगरिया, बार एसोसिएशन अध्यक्ष, टनकपुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!