स्वयं के विकास एवं अनुशासन से राष्ट्र का विकास सम्भव

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
राजकीय महाविद्यालय, पोखड़ा में आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए प्राचार्य प्रो. प्रीति कुमारी ने कहा कि युवा ही देश की शक्ति है। स्वतंत्रता संग्राम के युवा क्रांतिकारियों को याद करते हुए उन्होंने कहा कि सत्य कभी पराजित नहीं होता। यदि पूर्ण निष्ठा से कार्य किया जाये तो सफलता अवश्य प्राप्त होगी। स्वयं के विकास एवं अनुशासन से राष्ट्र का विकास सम्भव हो पायेगा।
मुख्य अतिथि कैप्टन जयकृत सिंह बिष्ट ने कहा कि सत्य और अहिंसा दैवीय शक्ति है, जिसके बल पर विजय प्राप्त की जा सकती है। विशिष्ट अतिथि सुरेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि छात्र-छात्राओं को अपने उद्देश्यों में सफल होने के लिए अपना मार्ग खुद प्रशस्त करना होगा। उत्तम आदत, शालीनता पूर्ण व्यवहार तथा अच्छी संगति के साथ अपने उद्देश्यों को प्राप्त करने हेतु कृत संकल्पित रहें। अभिभावक शिक्षक संघ के अध्यक्ष संजय सिंह बिष्ट ने कहा कि विद्यार्थियों को महाविद्यालय के उत्तरात्तर उन्नयन के लिये प्रयत्नशील रहना चाहिए। क्षेत्र के गणमान्य व्यक्तियों का योगदान संस्थाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण होना चाहिए। सभी के सामूहिक प्रयास से संस्था में सत्त आपेक्षित परिवर्तन आयेगा। कार्यक्रम में प्राध्यापक डॉ. अटल बिहारी त्रिपाठी, डॉ. विपिन कुमार तिवारी, डॉ. ब्रहमराज सिंह, कुलदीप सिंह, श्रीमती मोनिका रावत, श्रीमती कुसुम देवी, राहुल कुमार आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!