केएमओयू की हड़ताल 24 वें दिन भी रही जारी

Spread the love

अल्मोड़ा। केएमओयू बसों के पिछले 24 दिन से पहिए जाम है। कुमाऊं की सबसे बड़ी सार्वजनिक ट्रांस्पोर्ट संस्था की एक सूत्रीय मांग को लेकर चल रही हड़ताल का कोई सुध लेवा नहीं है। उनकी मांग पर शासन स्तर पर लंबा समय बीतने के बाद भी कोई हलचल नहीं दिखाई दे रही है। बस मालिक को नुकसान बहन कर रहैं लेकिन इन बसों के चालक परिचालकों के सामने कोरोनाकाल में रोजीरोजी का संकट बढ़ते जा रहा है। पूरे कुमाऊं में सौ से अधिक नियमित बस सेवाएं चलती थीं। अकेले अल्मोड़ा से 40 से अधिक मार्गो में बसों का संचालन होता आ रहा था। दरअसल बीते 2 मई से कोरोना काल में यात्री किराया बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर केएमओयू बसों के पहिए जाम है। जिस वजह से केएमओयू को हर रोज अल्मोड़ा से तीन लाख से अधिक का नुकसान उठाना पड़ रहा है। इस कारण अब बस मालिकों समेत चालक-परिचालकों के सामने आर्थिक संकट गहरा गया है। लेकिन सरकार की ओर से मांग पूरी नही की जा रही है। जिससे परेशानियों में इजाफा हो गया है। इधर आवागमन के लिए पहाड़ों की लाइफ लाइन कही जाने वाली केएमओयू बसों के पहिए जाम होने से यात्री परेशान है। मजबूरन यात्रियों को टैक्सी वाहनों में अधिक किराया देकर यात्रा करनी पड़ रही है।
रोडवेज बसों का भी संचालन ठप
अल्मोड़ा। कोरोना काल में रोडवेज बसों का संचालन पटरी से उतर गया है। मंगलवार को भी सवारी नही मिलने से दो बसों को स्टेशन से वापस डिपो भेज दिया गया। बसों का संचालन पूरी तरह ठप होने से डिपो को हर रोज लाखों का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!