प्रशिक्षित बेरोजगारों ने अतिथि शिक्षकों की भर्ती का किया विरोध

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। बीएड टीईटी प्रशिक्षित बेरोजगार महासंघ के सदस्यों ने प्राथमिक विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की भर्ती का विरोध किया। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि उक्त फैसला वापस नहीं लिया गया तो वे आंदोलन को बाध्य होंगे। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।
मालवीय उद्यान में आयोजित बैठक में वक्ताओं ने कहा कि शिक्षा मंत्री द्वारा प्राथमिक विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों को भर्ती करने का फैसला लिया गया है। जो कि पूर्णता गलत है। सरकार पूर्व में दो बार प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती निकाल चुकी है, लेकिन सरकार की गलत नीतियों के चलते भर्ती पिछले काफी समय से कोर्ट में लटकी है। सरकार की ओर से उसकी ठोस पैरवी नहीं की जा रही है। जिसके कारण स्थिति जस की तस बनी हुई है। उन्होंने कहा कि उक्त भर्ती प्रक्रिया में प्रत्येक जिले से 20 से 30 हजार तक आवेदन आए हैं, उसको लेकर सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर रही है, ऊपर से उन पदों पर अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति की बात कर रही है। उन्होंने कहा कि संघ चाहता है कि सरकार पूर्व में जारी विज्ञप्ति पर शीघ्र कार्रवाई करते हुए मार्च 2021 तक के समस्त सेवानिवृत्त तथा पदोन्नति के पदों को भी उक्त भर्ती प्रक्रिया में शामिल करे। इस अवसर पर सतपाल रावत, जसपाल रावत, महेंद्र सिंह, यशपाल रावत, उमेश कुमार, अखिलेश, गिरीश राणा, दीपक जदली, गौरव बुड़ाकोटी, दौलत कठैत आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!