रेलवे में नौकरी के नाम पर 44 लाख की ठगी में दो आरोपी गिरफ्तार

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

देहरादून। देहरादून पुलिस ने दो युवकों को रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप पर गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों ने छह बेरोजगार युवओं से नौकरी के नाम पर 44 लाख रुपयों की ठगी की थी। पुलिस जानकारी के अनुसार, 05-06-2022 को वादी सोनू पुत्र हनुमंत सिंह निवासी मिशन हस्पिटल रोड सतपुली पौड़ी गढ़वाल के द्वारा कोतवालीाषिकेश में एक लिखित तहरीर बाबत संदीप कुमार के द्वारा अपने दोस्त के साथ मिलकराषिकेश में संपर्क कर रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर कुल 14 लाख की धोखाधड़ी करने के संबंध में दिया गया। प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवालीाषिकेश में मु0अ0सं0 256ध्22 धारा 420 बनाम संदीप कुमार अभियोग पंजीत कर विवेचना प्रारंभ की गई। जबकि, दूसरे मामले में 15-08-2022 को वादी त्रिलोकी दास आदि के द्वारा कोतवालीाषिकेश में एक लिखित तहरीर बाबत संदीप कुमार एवं रविंद्र तथा उनके अन्य दो दोस्तों के द्वारााषिकेश में संपर्क कर हमारे बच्चों को रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर कुल 6 बच्चों से कुल 30 लाख रूपए की धोखाधड़ी कर लेने के संबंध में दिया गया।
प्राप्त लिखित तहरीर के आधार पर कोतवालीाषिकेश में मुकदमा अपराध संख्यारू 440ध्22 धारारू 420ध्467ध्468ध्471ध्120 बी आईपीसी बनाम संदीप आदि अभियोग पंजीत कर विवेचना प्रारंभ की गई। रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी की उक्त घटनाओं की गंभीरता के दृष्टिगत श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून महोदय के द्वारा घटना के शीघ्र अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए आदेशित किया गया।
आदेशों के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय एवं क्षेत्राधिकारीाषिकेश महोदय के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक कोतवालीाषिकेश के द्वारा अभियोगो के शीघ्र अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित कर ब्रीफ किया गया। गठित टीम के द्वारा वादी गणों से घटना संबंधित समस्त जानकारियां प्राप्त कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु उच्च कोटि की पतारसीध् सुरागरसी, मुखबिर तंत्र तथा सर्विलांस की सहायता लेकर तलाश जारी की गई।
किए गए कार्यों से महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त कर दिनांक 18-09-2022 को गठित टीम के द्वारा अभियोगों उपरोक्त से संबंधित दो अभियुक्तों 1- संदीप कुमार पुत्र हर स्वरूप सिंह निवासी लोटस गंगा कलोनी के समीप थाना कोतवाली रानीपुर, रोशनाबाद, हरिद्वार मूल निवासी मोहल्ला मिसकियाँ थाना स्योहारा, जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश।
2- रविंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी लोटस गंगा कलोनी रोशनाबाद हरिद्वार मूलनिवासी रतनपुर, थाना धामपुर बिजनौर, उत्तर प्रदेश को हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया। दोनों अभियुक्तों से पूछताछ के आधार पर अभियोग उपरोक्त में उनके एक अन्य मित्र का घटनाओं उपरोक्त में होना प्रकाश में आया है, जिसकी गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम प्रयासरत है।
पूछताछ में अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि वह दोनो मूलरूप से बिजनौर के रहने वाले हैं, संदीप कुमार सिडकुल हरिद्वार में एक फैक्ट्री में काम करता है तथा रविन्द्र की रोशनाबाद में कास्मेटिक्स की दुकान है तथा उनका एक अन्य मित्र जो पहलेाशिकेश में रहता था तथा मूल रूप से बिजनौर का रहने वाला है वो तीनो साथ मिलकर नौकरी की तलाष कर रहे युवाओं को रेलवे में नौकरी लगवाने का झांसा देकर उनसे पैसों की ठगी कर लेते थे। जिसमें उनका मित्र जोाशिकेष में रहता था वह संदीप को एफ0सी0आई0 अफिसर तथा रविन्द्र को रेलवे का अधिकारी बताते हुए युवकों को अपनी ऊची पहुंच का हवाला देकर उन्हें अपने जाल में फंसा लेता था। जिसके पष्चात वह तीनों उन युवकों से नौकरी लगवाने के नाम पर पैसे एंठ लेते थे।
नाम पता अभियुक्तगण –
1-संदीप कुमार पुत्र हर स्वरूप सिंह निवासी लोटस गंगा कलोनी के समीप थाना कोतवाली रानीपुर रोशनाबाद हरिद्वार, मूल निवासी मोहल्ला मिसकियाँ थाना स्योहारा जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश।
2- रविंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी लोटस गंगा कलोनी रोशनाबाद हरिद्वार मूल निवासी रतनपुर थाना धामपुर, बिजनौर, उत्तर प्रदेश।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!