उपनल कर्मियों का दूसरे दिन भी धरना जारी

Spread the love

नई टिहरी। वानिकी महाविद्यालय रानीचौरी में उपनल कर्मियों का 6 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया। दूसरे दिन धरना समाप्त करने को लेकर उपनल कर्मियों से महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. वीपी खंडूड़ी ने वार्ता की, लेकिन उपनल कर्मियों ने वीसी प्रो. एके कर्नाटका से वार्ता की मांग की। जिसके चलते वार्ता विफल रही। उपनल कर्मियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगों पर लिखित रूप से आश्वासन नहीं दिया जाता है। तब तक धरना जारी रहेगा। उपनल कार्मिकों का यह भी कहना है कि महाविद्यालय में विगत ढाई महीने से वेतन व प्रोत्साहन भत्ते का समय से भुगतान नहीं किया जा रहा है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी समान कार्य के लिए समान वेतन भी नहीं दिया जा रहा है। महाविद्यालय में जिन कार्यरत उपनल कर्मियों का वेतन भुगतना परिश्रमिक मद से किया जा रहा है। उनका भुगतान पूर्व की भांति वेतन व भत्ते मद में किया जाय। साथ ही महाविद्यालय में कार्यरत उपनल कार्मिकों की शैक्षिक योग्यता एवं कार्यकुशलता के आधार पर कार्मिकों को विभागीय पदोन्नति की जाय। 8 वर्ष पूर्व जिस कार्मिक को अकुशल व अर्द्धकुशल श्रेणी में रखा था, वे आज भी उसी श्रेणी का वेतन प्राप्त कर रहा है। जबकि महाविद्यालय ने उन्हीं कार्मिकों को कुशल व उच्च कुशल श्रेणी का करवाया जा रहा है। साथ ही शोध एवं प्रसार केंद्र काणाताल में कार्यरत कार्मिकों के साथ हुई मारपीट एवं अभद्र व्यवहार पर विश्वविद्यालय के उच्चाधिकारियों ने जब तक कोई ठोस निर्णय नहीं लिया, तब तक भी धरना जारी रहेगा। कर्मचारी संघ के अध्यक्ष तड़ियाल ने इस मौके पर कहा कि जब तक कार्मिकों की 6 सूत्रीय मांगों को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन लिखित निर्णय व आश्वासन नहीं देता है। धरना जारी रखा जायेगा। इस मौके पर मनवीर तड़ियाल, अनूप उनियाल, विनोद कोठारी, महेश घिल्डियाल, सुनील डानियाल, राकेश बहुगुणा, पंकज कुड़ियाल, विकास कोठारी, सुनील रमोला, अनिता तड़ियाल, कांता डोभाल, संगीता विजल्वाण, नीलम नेगी आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!