वेतन कटौती वापस नहीं ली तो अपनाएं उग्र रवैया

Spread the love

चम्पावत। जिला अस्पताल के डॉक्टरों का एक दिन का वेतन काटने का विरोध सातवें दिन भी जारी रहा। डॉक्टरों ने बांह में काली पट्टी बांधकर मरीजों का उपचार किया। कहना था कि सरकार ने जल्द वेतन कटौती का निर्णय वापस नहीं लिया तो वह उग्र रवैया अपनाने के लिए मजबूर होंगे। प्रांतीय चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा संघ के आह्वान पर सोमवार को भी डॉक्टरों ने काली पट्टी बांधकर विरोध दर्ज कराया। कहना था कि सरकार चिकित्सकों के मनोबल को गिराने का काम कर रही है। एक तरफ चिकित्सक कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच पूरी निष्ठा से जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर सरकार वेतन कटौती कर शोषण कर रही है। उन्होंने सरकार से तत्काल फैसला वापस लेने की मांग की। विरोध जताने वालों में एसोशिएशन अध्यक्ष डॉ एचएस ऐरी, डॉ. वेंकटेश द्विवेदी, डॉ. प्रदीप बिष्ट, डॉ.हिमांशु पांडेय, डॉ.राहुल चौहान, डॉ. विवेक, डॉ. राशि भटनागर, डॉ.अजय कुमार और रवि कुमार शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!