वैज्ञानिक सफलता के साथ-साथ प्राकृतिक संतुलन आवश्यक

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। हरेला मास में भारत स्वाभिमान न्यास एवं वन विभाग के संयुक्त तत्वाधान में रविवार को नक्षत्र वाटिका में सफाई अभियान चलाया गया। इस दौरान सदस्यों ने वाटिका परिसर की सफाई कर वृक्षारोपण किया।
संस्था के सदस्यों एवं वन विभाग के कर्मियों द्वारा राजकीय महाविद्यालय के समीप नक्षत्र वाटिका में फलदार प्रजाति के आंवला, अनार, कचनार, जामुन आदि के साथ-साथ कई प्रजाति के आयुर्वेदिक पौधे लगाए गए। वन क्षेत्र अधिकारी ने संबोधित करते हुए कहा कि हमें अपने यथा प्रयास से निरंतर पेड़ों को लगाते रहना चाहिए। बरसात के समय पेड़ों को लगाने में आसानी होती है। क्योंकि उन्हें प्राकृतिक रूप से वर्षा के पानी की आपूर्ति स्वत: ही हो जाती है। अत: हरेला मास में अधिक से अधिक पेड़ों को लगाना चाहिए। वैज्ञानिक सफलताओं के साथ-साथ प्राकृतिक संतुलन को भी बनाए रखना आवश्यक है, ताकि आने वाली पीढ़ी को शुद्ध वातावरण मिलता रहे। इस अवसर पर वन क्षेत्राधिकारी आरपी पंत, वन बीट अधिकारी महेंद्र सिंह, पूर्व रेंजर चन्द्र किशोर असवाल, भारत स्वाभिमान के जिला प्रभारी विजय नौटियाल, युवा प्रभारी विजय पाल नेगी, गोपाल कृष्ण बड़थ्वाल, आशा रावत, दमयंती नौटियाल, सुषमा घनसेला, रजनी नेगी, रश्मि केडियाल, सुशीला चौहान, अतुल कोटनाला, ऊषा असवाल आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!