सरयू नदी में बनेंगे घाट और आस्था पथ

Spread the love

बागेश्वर। नगर की सरयू नदी में जल्द ही लाखों रुपये की लागत से घाट निर्माण, नवीनीकरण, आस्था पथ व मोक्ष द्वार निर्माण आदि का कार्य होगा। शुक्रवार को डीएम ने योजना के तहत होने वाले कार्यों को स्लाइड शो के माध्यम से देखा। उन्होंने अधिकारियों से इस महत्वाकांक्षी योजना के निर्माण कार्य में गुणवत्ता व मितव्ययता का विशेष ध्यान रखने को कहा। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही से बचने के भी निर्देश दिए। कलक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक में सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता एके जॉन ने कार्ययोजना की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस अहम योजना के तहत सरयू नदी के किनारे विभिन्न घाटों के निर्माण के साथ आस्था पथ भी बनाया जाएगा। अस्थियों के विसर्जन के लिए भी नदियों के संगम पर अलग से रास्ता बनेगा। बताया कि योजना के तहत मोक्ष द्वार बनाने के साथ गोमती पुल के नीचे से एक अलग रास्ता भी बनेगा। जिसके माध्यम से अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी आदि लाने की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि योजना के तहत सूरज कुंड घाट का निर्माण और बागनाथ मंदिर घाट का पुनर्निर्माण नमामि गंगे के तहत प्रस्तावित किया जा चुका है। जिसकी कुल लागत पांच करोड़ 85 लाख रुपये है। उन्होंने बताया कि योजना को धन आवंटन होने के तीन साल के भीतर धरातल पर उतारने का प्रस्ताव है। डीएम ने नदी तट पर बनने वाले सुरक्षा दीवार व घाटों के सौंदर्यीकरण व नवीनकरण के लिए बनी योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने विभाग से नियमित पत्राचार कर धनराशि अवमुक्त कराने को कहा। ताकि जिले की महत्वकांक्षी योजना जल्द धरातल पर उतर सके। उन्होंने आठ चरणों में बंटी इस योजना को चरणबद्ध रूप से क्रियान्वयन करने को कहा और पूरी जिम्मेदारी व निष्ठा से योजना का निर्माण करने के निर्देश दिए। इस मौके पर सीडीओ डीडी पंत, एडीएम राहुल गोयल, एसडीएम राकेश चंद्र तिवारी, ईई भाष्कर पांडेय, संजय पांडेय, ईओ राजदेव जायसी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!