11 जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मचा

Spread the love

संवाददाता, नैनीताल। नगर के बीडी पांडे जिला अस्पताल में बुधवार को हुई रेपिड टेस्टिंग के बाद जिला अस्पताल के चार चिकित्सक, नर्स, लैब टैक्नीशियन, क्लर्क, चतुर्थ श्रेणी पर्यावरण मित्र समेत 11 की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया। हालांकि अस्पताल के चिकित्सक इसे सामान्य मान रहे थे। अस्पताल के पीएमएस डॉ. केएस धामी ने बताया सभी की स्वाब टेस्टिंग के लिए सैंपल लिए गए हैं, इनकी रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। केंद्र व प्रदेश शासन के निर्देश पर पड़ताल को बीडी पांडे अस्पताल में भी रेपिड टेस्टिंग किट पहुंची। इसके बाद पीएमएस डा. केएस धामी के नेतृत्व में डाक्टरों व स्टाफ की चेकिंग की गई। डाक्टरों की पड़ताल में ही 4 चिकित्सकों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद जांच में नर्स, लैब टैक्नीशियन, कार्यालय कर्मी व चतुर्थ श्रेणी कर्मी रेंडम चेकिंग में पॉजिटिव पाए गए। इनमें एक कर्मचारी यहां सेनेटाइजेशन भी करता था। पीएमएस के आदेश पर जल्द सभी के स्वाब सैंपल लेने की कवायद की गई, जिसे एसटीएच भेज दिया गया। हालांकि करीब छह दर्जन की रेपिड चेकिंग के बाद अस्पताल प्रबंधन ने इसे बंद कर दिया।
नगर में 37 क्वारंटाइन
अस्पताल प्रबंधन की ओर से बुधवार को एक और को क्वारंटाइन किया है। नगर के टीआरसी में 24 क्वारंटाइन हैं, जबकि तल्लीताल टीआरसी में 12 क्वारंटाइन हैं।
सोशल मीडिया से क्षेत्र में चर्चा
अस्पताल प्रबंधन की रेपिड टेस्टिंग और चिकित्सकों व स्टाफ की पॉजिटिव रिपोर्ट की सूचना शहर में फैलने के साथ सोशल मीडिया पर सार्वजनिक हो गया। चिकित्सा स्टाफ की पॉजिटिव रिपोर्ट से लोग घबरा गए। उनका कहना था कि यदि चिकित्सक ही संक्रमित हो गए तो आमजन का उपचार कैसे होगा। अब तो लोग अस्पताल जाने से भी डर रहे हैं।
रेपिड टेस्टिंग से घबराने की कोई बात नहीं है। टेस्टिंग के बाद दो चिकित्सकों राज्य अतिथिगृह में क्वारंटाइन किया है। जबकि नर्स व स्टाफ को भी क्वारंटाइन कर दिया गया है। उनकी स्वयं और एक अन्य चिकित्सक की रेपिड रिपोर्ट नेगेटिव आई है, लेकिन वह स्वयं चिकित्सक के साथ क्लब में क्वारंटाइन रहेंगे। -डॉ.केएस धामी, पीएमएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!