3916 प्रवासियों ने रोजगार करने की इच्छा जाहिर की : डीएम

Spread the love

बागेश्वर। कुमाऊं मंडल के आयुक्त अरविंद सिंह ह्यांकी ने प्रवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए की गई तैयारियों और व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने प्रवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए जिलों में आए प्रवासियों की शत प्रतिशत स्किल मैपिंग व ट्रेकिंग करने को कहा। उन्हें सरकारी योजनाओं की जानकारी देकर स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग से आयुक्त ने तैयारियों की समीक्षा की। डीएम रंजना राजगुरु ने उन्हें बताया कि अब तक जिले में 38634 लोग पहुंच चुके हैं। इनमें बाहरी राज्यों से आए 22,944 और प्रदेश के विभिन्न जिलों के 15690 लोग शामिल हैं। इनमें 17806 का पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया जा चुका है। उन्होंने बताया कि विभिन्न विभागों के माध्यम से 12128 लोगों को फोन के माध्यम से विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी गई। 3916 प्रवासियों ने रोजगार करने की इच्छा जाहिर की। इसमें 351 ने कृषि व बागवानी, 484 ने पशुपालन व डेयरी, 33 ने पर्यटन, 519 ने उद्यम, 165 ने औद्यागिक श्रमिक, 291 ने होटल व्यवसाय और 2068 लोगों ने ग्राम्य विकास में कार्य करने की इच्छा जताई है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत 156 आवेदन बैंकों को भेजे गए है, इसमें 115 प्रवासी हैं। वहीं मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत भेजे गए 51 आवेदन में भी 42 प्रवासी हैं। बताया कि पर्यटन विभाग के तहत वीर चंद्र सिंह गढ़वाली योजना में 16 आवेदन मिले हैं, इसमें सात आवेदन पत्रों को स्वीकृत करते हुए बैंकों को भेज दिया है। होम स्टे योजना के तहत भी सात आवेदन पत्र स्वीकृत किए हैं। उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत जिले में 1865 प्रवासियों को रोजगार दिया है। श्रम विभाग ने 4326 श्रमिकों को डीबीटी के माध्यम से धनराशि उपलब्ध कराई हे। आशा कार्यकत्रियों को एक-एक हजार रुपये का मानदेय उनके खाते में उपलब्ध कराया जा चुका हैं पर्यटन से जुड़े लोगों को भी एक-एक हजार रुपये की धनराशि उपलब्ध कराने की कार्रवाई चल रही है। इस मौके पर सीडीओ डीडी पंत, एडीएम राहुल कुमार गोयल, सीएमओ डॉ. बीडी जोशी, डीडीओ केएन तिवारी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!