अमित शाह ने व्यक्त किया पीएम का आभार, बाकी नेता बोले- लोगों की इच्छा हुई पूरी

Spread the love

नई दिल्ली। वर्षों से जिस क्षण का लोग इंतजार कर रहे थे वो आज आ गया, अयोध्या में आज इतिहास रचा गया है। कई वर्षों तक कोर्ट में मामला चलने के बाद अखिरकार अयोध्या में राम मंदिर की नींव पड़ गई है। राम मंदिर निर्माण से पहले आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमि पूजन किया है। भूमि पूजन के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत अन्य कुछ मेहमान उपस्थित रहे। बता दें कि पूजन के बाद पीएम मोदी ने संबोधन भी हुआ। भूमिपूजन के बाद तमाम नेताओं की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई है।
एक के बाद एक किए गए दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि इस भव्य प्रभु श्री राम मंदिर का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के मजबूत और निर्णायक नेतृत्व को दर्शाता है।इस अविस्मरणीय दिन पर सभी भारतवासियों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। मोदी सरकार भारतीय संस्ति और उसके मूल्यों की रक्षा व संरक्षण के लिए हमेशा कटिबद्घ रहेगी।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि प्रभु राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप हो रहा है। मुझे यकीन है कि मंदिर परिसर, रामराज्य के आदर्शों पर आधारित आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा। वहीं, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण धार्मिक मामले से कहीं अधिक है। यह उच्चतम मानवीय मूल्यों की पुनर्स्थापना का मौका भी है। भगवान राम के आचरण और मूल्य भारत की चेतना के मूल तत्व हैं जो सभी तरह के विभाजन और बाधाओं से ऊपर है।
भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर की आधारशिला रखकर दुनिया भर में भक्तों की इच्छाओं को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। नड्डा ने यह भी कहा कि इसके साथ ही पीएम मोदी ने बीजेपी द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए ली गई शपथ को भी पूरा कर लिया है।उन्होंने ट्वीट कर कहा कि इस ऐतिहासिक, शुभ अवसर पर, मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने जनता की इच्छाओं और भूमि पूजन द्वारा राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण और शिलान्यास करने की हमारी शपथ पूरी की। जय श्री राम। आगे, सिंह ने कहा कि प्रत्येक भारतवासी का सपना था कि अयोध्या में भगवान श्री राम का भव्य मंदिर बने।
1991 में अयोध्या आए भाजपा कार्यकर्ता नरेंद्र मोदी ने 2020 में प्रधानमंत्री बनकर किया भूमिपूजन
देहरादून। पांच अगस्त 2020 की तारीख अब इतिहास में दर्ज हो गई है। 492 वर्ष बाद दोबारा राम मंदिर आकार लेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या जाकर राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमिपूजन किया है। इसी के साथ एक बार फिर चर्चा आया है अयोध्या और नरेंद्र मोदी का संबंध।
दरअसल मोदी 29 वर्ष पहले भी अयोध्या आए थे। तब न तो वे विधायक थे, न ही सांसद। उस समय वे भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता थे जो तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में कन्याकुमारी से शुरू हुई एकता यात्रा के तहत 18 जनवरी 1991 को अयोध्या पहुंचे थे।
इस दौरान मोदी ने जोशी के साथ एक सभा को संबोधित भी किया था। इस सभा से पहले उन्होंने रामलला के दर्शन किए थे। कहा जाता है कि इस दौरान नरेंद्र मोदी ने कहा था कि अगली बार वह अयोध्या तभी आएंगे जब यहां राम मंदिर का निर्माण होना होगा।हालांकि उस भाषण का रिकर्ड कहीं नहीं है, इसलिए इसकी पुष्टि अमर उजाला नहीं करता है। इसके बाद नरेंद्र मोदी राजनीति में आगे बढ़ते गए और कभी पीटे मुड़कर नहीं देखा। और अब 29 वर्ष बाद यानी पांच अगस्त 2020 को यह तस्वीर फिर चर्चा में है, क्योंकि वही नरेंद्र मोदी आज देश के प्रधानमंत्री हैं और उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया है।

अयोध्या में भूमि पूजन के बाद राममय हुआ न्यूयार्क का टाइम्स स्कावयर, लगे जय श्रीराम के नारे
न्यूयार्क। राम मंदिर निर्माण के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में भूमि पूजन किया। इसको लेकर देश के साथ-साथ विदेशों में भी लोग जश्न मना रहे हैं। अमेरिका की राजधानी न्यूयर्क के टाइम्स स्क्वायर भी आज राममय दिखा। यहां राम मंदिर की तस्वीर का डिजिटल बोर्ड के जरिए प्रदर्शन किया गया। साथ ही इस मौके पर लोगों ने श्जय श्रीरामश् के नारे भी लगाए। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ में अपने सरकारी आवास पर पटाखे जलाकर जश्न मनाया। साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने अयोध्या में सरयु तट पर आरती की।

संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- संकल्प पूरा हुआ, सबके राम और सबमें राम
अयोध्या। अयोध्या में आज श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का भूमि पूजन हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर का भूमि पूजन किया। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के सर संघचालक मोहन भागवत भी भूमि पूजन में शामिल हुए। इस दौरान अपने संबोधन में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि आज पूरा देश आनंद से भर गया है। आज हमारा संकल्प पूरा हुआ है। उन्होंने इस दौरान राम मंदिर के लिए बलिदान देने वाले संघ के लोगों को याद किया और उनके योगदान को सराहा।

पीएम मोदी की मां हीराबेन ने टीवी पर देखा भूमि पूजन समारोह, हाथ जोड़े नजर आईं
अहमदाबाद। प्रधानमंत्रीकी मां हीराबेन ने बुधवार को गुजरात के गांधीनगर में अपने निवास पर अयोध्या में राम मंदिर का श्भूमि पूजनश् देखा। हीराबेन टीवी के सामने हाथ जोघ्ड़े बैठीं हुईं नजर आईं।
वहीं, टीवी पर पीएम नरेंद्र मोदी अयोध्या में पूजा करते हुए दिख रहे हैं। पीएम मोदी ने अयोध्या में भूमि पूजन समारोह के दौरान हनुमानगढ़ी पहुंचकर पूजा-अर्चना की और इसके बाद राम जन्मभूमि क्षेत्र पहुंचकर भगवान राम को दंडवत प्रणाम किया। राम जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच अगस्त की तिथि को स्वर्ण अक्षरों में लिख दिया।(एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!