अयोध्या श्रीराम मंदिर के लिए भेजा यमुनोत्री धाम से यमुना जल व मिट्टी

Spread the love

उत्तरकाशी। तीर्थपुरोहितों ने विश्व प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम से यमुना जल, यमुनोत्री धाम की मिट्टी व ब्रह्मकमल को अयोध्या में श्रीराम मन्दिर शिलान्यास के लिए भेजा है। जिसे बड़कोट पहुंचाकर मन्दिर समिति के पदाधिकारियों ने विश्व हिन्दू परिषद के यमुनाघाटी अध्यक्ष व पदाधिकारियों को यमुना जल कलश सौंपा तथा आयोध्या पहुचंने की शुभकामंनाएं दी हैं।पांच अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर के शिलान्यास के लिए यमुनोत्री धाम से श्री यमुनोत्री मन्दिर समिति के पदाधिकारियों व तीर्थ पुरोहितों ने मां यमुना का जल, यमुनोत्री की मिट्टी और हिमालय क्षेत्र में होने वाले ब्रह्मकमल को बड़कोट पहुंचाया, जहां से तीर्थ पुरोहितों ने जल, मिट्टी व ब्रह्मकमल को अयोध्या भेजने के लिए विहिप के पदाधिकारियों को सौंपा। यमुनोत्री मन्दिर समिति के सचिव कृतेश्वर उनियाल ने कहा कि 5 अगस्त को भगवान श्रीराम जी का भव्य मन्दिर का शिलान्यास व भूमि पूजन के लिए यमुनाजल और मिट्टी को भेजा जाना तीर्थपुरोहितों का सौभाग्य है। उन्होंने सनातन धर्म प्रमियों को बधाई देने के साथ ही भव्य मन्दिर निर्माण की शुभकामनाएं दीं हैं।विश्व हिन्दू परिषद के यमुनाघाटी अध्यक्ष शांति प्रसाद बेलवाल ने यमुना जल, यमुनोत्री धाम की मिट्टी प्राप्त करते हुए कहा कि यमुनोत्री धाम से आया जल व मिट्टी सहित ब्रह्मकमल को सम्मान सहित विकासनगर की कार्यकारणी को सौपा जायेगा। जहां से अयोध्या पहुंचाया जायेगा। इस मौके पर पंचपण्डा समिति के अध्यक्ष वेदप्रकाष उनियाल, पूर्व पंचपण्डा समिति के अध्यक्ष मनमोहन उनियाल, विनोद उनियाल, अमित उनियाल, अनोल उनियाल, कपित उनियाल, समिति प्रवक्ता बागेष्वर उनियाल , जगमोहन उनियाल, आरएसएस के जिला कार्यवाहक रामप्रसाद विजल्वाण , शान्ति प्रसाद बेलवाल, उत्तम सिंह रावत, विजय सिंह रावत, ग्राम प्रधान व खण्ड प्रधान संघ समिति विकास पैठाणी आदि उपस्थित रहे।गंगोत्री धाम से भी भेजा जल और मिट्टीउत्तरकाशी। गंगोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों ने गंगा जल और रेत-मिट्टी अयोध्या के लिए भेजा। गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने बताया कि बीते सोमवार की रात को विश्व हिदू परिषद के केंद्रीय उपाध्यक्ष एवं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र न्यास के महामंत्री चम्पत राय का फोन आया था। उन्होंने गंगोत्री से भारतीय डाक सेवा के जरिये गंगा जल और रज भेजने का आग्रह किया। मंगलवार को तीर्थ पुरोहितों ने विधि विधान से पूजा-अर्चना की, जिसके बाद गंगा जल को तांबे के पात्र में पैक किया गया, जिससे गंगोत्री मंदिर समिति के सह सचिव राजेश सेमवाल स्पीड पोस्ट के जरिये उत्तरकाशी से अयोध्या के लिए भेजेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!