भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर शहीदों को किया याद, सरकार पर लगाया स्वतंत्रता का हनन करने का आरोप, अगस्त क्रांति ने रखी भारत की स्वतंत्रता की नींव, स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत को किया सम्मानित   

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने अगस्त क्रांति के अवसर पर देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले शहीदों को श्रद्घासुमन अर्पित किये। कार्यकर्ताओं ने कहा कि 9 अगस्त, 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन की शुरूआत हुई थी। जिसमें कई स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बढ़चढ़ कर बड़ी रैलिया हुई। जिसकी चलते आज हम खुली हवा में चैन की सांस ले रहे हैं।
गढ़वाल टॉकीज स्थित कांग्रेस कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने कहा कि देश को आजाद कराने के लिए महात्मा गांधी के द्वारा चलाये गये जन आंदोलन ने अंगे्रजी हुकुमत की जड़ों को हिला कर रख दिया था। इसी आंदोलन के बदौलत अंग्रेजी हुकुमत को भारत छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा जिससे भारत अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हो पाया। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त 1942 को हुई अगस्त क्रांति से बौखलायी अंग्रेज हुकुमत ने महात्मा गांधी, जवाहर लाल नेहरू सहित आंदोलन कर रहे शीर्ष नेताओं को जेलों की काल कोठरी में कैद कर दिया था। अगस्त क्रांति में भारत को आजादी दिलाने के लिए हजारों की संख्या में मजदूरों, युवाओं, महिलाओं ने महात्मा गांधी के करो या मरो के नारे का अनुकरण करते हुए अंग्रेजों के खिलाफ आंदोलन का बिगुल फूंक दिया था। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद देश की एकता एवं अखंडता सहित सभी वर्गों, समुदायों को न्याय दिलाने वाले संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि अब कांग्रेस कार्यकर्ता संविधान बचाओ आंदोलन के माध्यम से भाजपा की कथनी एवं करनी को उजागर करेगें। इस मौके पर जिलाध्यक्ष डॉ़ चंद्रमोहन खरक्वाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, महामंत्री हेमचंद्र पंवार, यूथ कांग्रेस के विधानसभा अध्यक्ष विजय रावत, महामंत्री नीरज बहुगुणा, कुलदीप, जिला प्रवक्ता बलवीर सिंह रावत, विजय नारायण, मनवर सिंह आर्य, कृपाल सिंह, जितेन्द्र भाटिया आदि मौजूद थे।
सरकार पर लगाया स्वतंत्रता का हनन करने का आरोप 
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने वर्तमान में भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध करते हुए कहा कि वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के कार्यकाल में सरकारी उपक्रमों को निजी हाथों में बेचा जा रहा है, जिससे हजारों की संख्या में लोग बेरोजगार हो रहे है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि वर्तमान सरकार हिटलर शाही नीति अपना रही है। आम लोगों की स्वतंत्रता का हनन किया जा रहा है।
अगस्त क्रांति ने रखी भारत की स्वतंत्रता की नींव 
पूर्व मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने आजादी के आंदोलन में शहीद हुए सपूतों को नमन करते हुए श्रद्घांजलि दी। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त की कांति ने ही फिरंगियों को भारत छोड़ने के लिए मजबूर किया था। अगस्त क्रांति से ही भारत की स्वतंत्रता की नींव रख दी गयी थी। उन्होंने कहा कि देश को आजादी बलिदानों से मिली है, हमें वीर सपूतों के बलिदानों को व्यर्थ नहीं जाने देना है। भारत की एकता एवं अखंडता के लिए अपना योगदान देने के लिए सदा तत्पर रहना होगा।
स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत को किया सम्मानित
अंग्रेजो भारत छोड़ों अन्दोलन की अगस्त क्रान्ति की 78वीं वर्षगांठ पर कांग्रेस ने 101 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी आजाद हिन्द फौज के कैप्टन मुरली सिंह रावत को पुष्प माला पहनाकर व शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। स्वतंत्रता सेनानी मुरर्ली ंसह रावत ने भारत छोड़ो आंदोलन के संस्मरण सुनाये। उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने भी वयोवृद्ध मुरली सिंह रावत के आवास पर पहुंच उन्हें पुष्प गुच्छ भेंट किया। साथ ही शॉल ओढ़ाकर उन्हें सम्मानित किया। उपजिलाधिकारी ने कहा कि देश की आजादी में मुरली सिंह सहित तमाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता।
अगस्त क्रान्ति दिवस के अवसर पर पूर्व राज्यमंत्री जसवीर राणा के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत के मवकोट स्थित आवास पर पहुंचे। आवास पर ध्वजा रोहण कर राष्ट्रगान व राष्ट्रगीत गाकर ध्वज को सलामी दी गई। इस अवसर पर पूर्व राज्यमंत्री जसवीर राणा ने केन्द्र व राज्य सरकार से 101 वर्ष पूरे कर चुके स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत को विशेष रूप से सम्मानित करने की मांग की। उन्होंने कहा कि आज वो लोग देश को राष्ट्र भक्ति का सर्टीफिकेट बांट रहे हैं जिन्होंने आजादी के आंदोलन में भारत छोड़ो आंदोलन का विरोध किया था। इस मौके पर स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत के परिजनों के अलावा पूर्व राज्यमंत्री जसवीर राणा, पूर्व प्रधान तेजपाल पटवाल, पूर्व प्रधान बृजेन्द्र नेगी, पूर्व प्रधान विनोद रावत, पूर्व प्रधान बीरेन्द्र रावत, पूर्व शिक्षा अधिकारी प्रेम सिंह पयाल, देवेन्द्र भट्ट, श्रीधर वेदवाल, विक्रम राणा, योगेन्द्र सिंह, अतुल नेगी, अंकुर डेविड आदि उपस्थित रहे।
स्वतंत्रता सेनानी मुरली सिंह रावत को सम्मानित करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!