सीडीओ ने किया खिर्सू बासा होम स्टे का निरीक्षण  पहाड़ में होमस्टे स्वरोजगार का बेहतर माध्यम, होम स्टे में काम करने को कर रहे प्रेरित 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि। 
पौड़ी। जनपद के नव नियुक्त मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने बुधवार को खिर्सू बासा होम स्टे का निरीक्षण किया। जिला मुख्यालय के नजदीक खिर्सू में बने बासा होमस्टे को उन्होंने पहाड़ के विकास के लिए बेहतर कॉन्सेप्ट बताया। उन्होंने कहा कि पहाड़ में होमस्टे स्वरोजगार का बेहतर माध्यम है। पहाड़ी शैली से निर्मित इसकी वास्तुकला भी मनमोहक है। जिसे अपनाकर शिक्षित युवा अपनी आर्थिकी को मजबूत कर सकता है। इस अवसर पर सीडीओ ने बासा में परोसे जा रहे पहाड़ी व्यंजनों का भी लुप्त उठाया।
बुधवार को मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई प्राकृतिक छटा से भरपूूर पर्यटक स्थल खिर्सू पहुंचे तो प्रकृति की सुंदरता के बीच उन्हें वहां पर बने होम स्टे (बासा) की खूबसूरती ने उनका मन मोह लिया। पारंपरिक पहाड़ी शैली तथा आधुनिक सुविधाओं से सम्पन्न बासा कॉन्सेप्ट को उन्होंने बेहद अहम बताया। सीडीओ ने कहा कि पहाड़ के विकास के लिए इस प्रकार के कॉन्सेप्ट बेहद अहम हैं। उन्होंने जिलाधिकारी द्वारा बासा होम स्टे में किये गए उल्लेखनीय कार्यों को आत्मसात करने को कहा। जिलाधिकारी द्वारा किए गए कार्यों से सभी अधिकारी सीख ले सकते हैं। उन्होंने संबंधित विभाग को बासा का सही ढंग से रख-रखाव करने के निर्देश देते हुए कहा कि बासा में आगंतुकों की सूची भी अपडेट रखी जाए। उन्होंने सोशल मीडिया पर भी प्रचार-प्रसार करने को कहा, जिससे कि खिर्सू में पर्यटकों की संख्या में इजाफा हो सके। बासा कॉन्सेप्ट को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए उन्होंने संबधित विभाग एक ठोस योजना के तहत काम करने को कहा। इस दौरान सीडीओ ने बासा होमस्टे परिसर में ही पौधरोपण भी किया। इस अवसर पर खंड विकास अधिकारी दिनेश पंत, बीएमएम खिर्सू भारत सिंह बुटोला सहित अन्य उपस्थित थे।
होम स्टे में काम करने को कर रहे प्रेरित 
जिला पर्यटन विकास अधिकारी/साहसिक खेल अधिकारी खुशाल सिंह नेगी ने मुख्य विकास अधिकारी को होम स्टे (बासा) की विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बासा होम स्टे का संचालन राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के अन्तर्गत उन्नति ग्राम संगठन महिला समूहों की सदस्यों द्वारा किया जा रहा है। इसी मॉडल के तर्ज पर अन्य स्थानों/ग्रामों में स्वयं सहायता समूहों को पर्यटन/होम स्टे कन्वर्जन में कार्य करने हेतु प्रेरित कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!