डीएम ने किया संजीवनी हर्बल गार्डन का शुभारंभ

Spread the love

-औषधीय पौध पर शोध के लिए मददगार साबित होगा हर्बल गार्डन: डीएम
उत्तरकाशी। कलक्ट्रेट परिसर के पास संजीवनी हर्बल गार्डन का शुभारंभ करते डीएम मयूर दीक्षित ने कहा कि गार्डन में रुद्राक्ष, नीलकंठी, सिन्दूरी, गुड़हल, सर्पगंधा, अकरकरा, अर्जुन, बेलपत्र, लसून बेल, कनक चम्पा, जावा ग्रास, हरसिंहार, पुत्रजीवक, सीता अशोक आदि विभिन्न प्रजाति की करीब ढाई सौ औषधिय व फलदार पौघ लगाई गई है। जो शोघकर्ताओं के लिए मददगार साबित होगा। गुरुवार को जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने करीब ढाई सौ विभिन्न गुणकारी औषधीय एवं फलदार पौघों से तैयार किए गए हर्बल गार्डन का रिबन काटकर शुभारंभ किया। इस मौके पर डीएम दीक्षित ने गार्डन में सीता अशोक की पौध भी रोपित की। कहा कि जिला कार्यालय परिसर के एक हिस्से में काफी लंबे समय से खाली जमीन थी। जिसका उपयोग काफी लंबे अरसे से नही किया जा रहा था। पर्यावरण प्रेमी प्रताप पोखरियाल व उनकी टीम द्वारा जमीन का उपयोग कर सुंदर हर्बल गार्डन के रूप में विकसित किया है। निश्चित तौर पर आने वाले दिनों में पर्यावरण प्रेमियों व औषधीय पौध के शोधकर्ताओं व कलेक्ट्रेट में आने वाले आगन्तुकों को इसका लाभ मिलेगा। कहा कि इसी प्रकार से सभी सरकारी कार्यालयों में हर्बल गार्डन बनाये जाएंगे। उन्होंने जनता से भी अपील की है कि अपने घर व बंजर पड़ी जमीन में जरूर औषधीय पौध लगाएं। वृहद रूप से पौध लगाने व उनकी अच्छी देख-रेख होने पर ये आपके लिए एक अच्छा आय का स्रोत बन सकता है। वहीं इस मौके पर पर्यावरण प्रेमी प्रताप पोखरियाल ने कहा कि संजीवनी हर्बल गार्डन में रूद्राक्ष, नीलकंठी, सिन्दूरी, गुड़हल, सर्पगंधा, अकरकरा, अर्जुन, बेलपत्र, लसून बेल, कनक चम्पा, जावा ग्रास, हरसिंहार, पुत्रजीवक, सीता अशोक, शमी, पीला कनेर, पिलखन, मौलश्री, अश्वगंधा, चित्रक, स्टीबिया, रोजमेरी, गिलोय, हड़जोड़, वनस्पा, पीलावासा, भृंगराज, थुनेर,आदि पौध रोपित की गई है। इस मौके पर जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कमांडर हेमंत कुमार वर्मा, डॉ. शम्भू प्रसाद नोटियाल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!