डीएम ने एनएच की खराब स्थिति पर जताई नाराजगी दुगड्डा-कोटद्वार के मध्य भू-स्खलन वाले स्थल में भू-वैज्ञानिक करेगें सर्वे

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। श्रीनगर से सतपुली तक राष्ट्रीय राजमार्ग की खराब स्थिति पर डीएम धीराज सिंह गब्र्याल ने कड़ी नाराजगी जताई। आरटीओ को निर्देशित किया कि सड़क सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए ऐसे होर्डिग, आब्जेक्ट्स जिससे दुर्घटना की संभावना बनी रहती है तत्काल एनएच, लोनिवि, वन विभाग से चिन्हिकरण करवाते हुए हटवाये जाय। उन्होंने ग्रामीण मार्गों के भी दुर्घटना संभावित क्षेत्र का सर्वे कराने हेतु कार्यवाही अमल में लाने के को कहा। साथ ही दुगड्डा एवं कोटद्वार के मध्य भू-स्खलन वाले स्थल के ऊपरी क्षेत्र में भू-वैज्ञानिक से सर्वे कराने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये। जिससे आने वाले बड़े खतरे को रोका जा सकें।
विकास भवन सभागार पौड़ी में जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल के अध्यक्षता में जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक हुई। उन्होंने क्रमवार रेखीय विभाग से सड़क सुरक्षा कार्य को लेकर गत बैठक मेंं दिये गये निर्देश के अनुपालन में कार्य प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने माननीय उच्चतम न्यायालय, गठित सड़क सुरक्षा समिति द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुपालन में बिन्दुवार आख्या पर विस्तृत चर्चा करते हुए आरटीओ को शीघ्र आख्या रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी श्री गब्र्याल ने बैठक में कार्य प्रगति की समीक्षा करते हुए जनपद में जनवरी से जून 2020 तक सड़क दुर्घटना की अद्यतन जानकारी ली। आरटीओ पौड़ी ने बताया कि जनपद में वर्ष 2019 को 20 दुर्घटना हुई थी, जबकि 2020 में 06 दुर्घटना हुई है 2020 में 70 प्रतिशत की कम दुर्घटना हुई। मृतकों की संख्या 2019 में 16 तथा 2020 में 5 है। जो गत वर्ष की दुर्घटना के सापेक्ष 68 प्रतिशत कम है। जबकि घायलों की संख्या 2019 में 64 तथा 2020 में 5 घायल हुए है, जो कि गत वर्ष की घटना से 92 प्रतिशत कम है। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी सुश्री पी. रेणुका देवी, मुख्य विकास अधिकारी पौड़ी हिमांशु खुराना, आरटीओ पौड़ी एस. शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी केएस रावत, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका प्रदीप बिष्ट, एसीएमओ जीएस तालियान, टीटीओ राजेन्द्र विराटिया, अ0अ0 अरूण कुमार पाण्डेय, आदर्श गोपाल सिंह, डीडीएमओ दीपेश चन्द्र काला सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

जनपद में 235 दुर्घटना संभावित क्षेत्र में से 170 किये गये ठीक
जनपद में 235 दुर्घटना संभावित क्षेत्र में की गई कार्यवाही की जानकारी लेने पर आरटीओ ने बताया कि जनपद में 235 दुर्घटना संभावित चिन्हित किये गये थे, जिनमें से 170 दुर्घटना संभावित क्षेत्र को ठीक किया गया है। जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग निर्देश दिये कि अवशेष स्थलों को शीघ्र दुरस्त करते हुए संभागीय परिवहन कार्यालय को रिपोर्ट प्रस्तुत करें। ब्लैक स्पॉट की समीक्षा पर आरटीओ ने बताया कि जनपद में 2 ब्लैक स्पॉट में धुमाकोट भानै पीपली मोटर मार्ग पर ग्वीन गांव के समीप जिसे प्रान्तीय खण्ड लोनिवि लैन्सडौन ने दीर्घकालीन सुधारी करण कार्य पूर्ण कर लिया है। जबकि एनएच 58 चमधार के पास फरासू स्थान पर चिन्हित ब्लैक स्पॉट पर ऑलवेदर रोड़ परियोजना के अन्तर्गत कार्य गतिमान है। उन्होंने राजस्व पुलिस एवं रेगुलर पुलिस को जनपद में होने वाले दुर्घटनाओं की सुस्पष्ट सूचना संभागीय कार्यालय को समय पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। जबकि ट्रामा सेन्टर, एम्बुलेस, सहित अन्य बिन्दुओं की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!