डीएम पौड़ी ने किया आश्रम पद्धति विद्यालय भवन का निरीक्षण

Spread the love

सिंडी जसकोट ग्राम पंचायत में समाज कल्याण की ओर बनाया गया विद्यालय भवन
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी।
जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने सोमवार को सिंडी जसकोट ग्राम पंचायत में समाज कल्याण विभाग की ओर से नव निर्मित आश्रम पद्धति विद्यलाय भवन का निरीक्षण किया। विद्यालय परिसर में बनाये गये कक्षा-कक्ष भवन, छात्रावास, भोजनालय, अधीक्षिका भवन और स्टॉफ रूम का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने परिसर की चार दीवारी के सड़क किनारे छूटे स्थान पर वायरकेट की मजबूत घेरवाड लगाने के निर्देश दिये। चार दीवारी के ऊपरी हिस्से में वायरक्रेट लगाने के निर्देश दिए। ताकि जंगली जानवरों से विद्यालय परिसर में सुरक्षा बनी रहे। साथ ही पानी की टंकियों को बंदरों से सुरक्षित रखने के लिए जाल से कवर करने को कहा। कक्षा-कक्षों के निरीक्षण के दौरान सभी कक्षों में डिस्प्ले बोर्ड लगाने, पर्याप्त मात्रा में फर्नीचर लगाने, छात्रावास में पर्याप्त मात्रा में बैड, गद्दे लगाने, प्रथम एवं द्वितीय तल में बरामदे को एल्युमुनियम जाले से कवर करने के निर्देश दिए है। ताकि बच्चों की बंदरों से सुरक्षा बनी रहे। उन्होंने श्रीकोट में संचालित हो रही कक्षा 1 से कक्षा 5 तक आश्रम पद्धति आवासीय विद्यालय के बारे में प्रधानाध्यापिका से विद्यालय पठन-पाठन एवं छात्रों के बारे में समुचित जानकारी ली। उन्होंने विद्युत आपूर्ति एवं पेयजल आपूर्ति की समुचित जानकारी ली, जिस पर संबंधित अधिकारी ने विद्युत एवं पेयजल आपूर्ति के बारे में कहा कि विद्युत एवं पेयजल आपूर्ति सुचारू की गई है। पेयजल के लिए अलग से योजना बनाये गये है। निर्माण कार्य से परिसर में बिखरे पडे़ मलबे मिट्टी को व्यवस्थित रूप से रख रखाव करने के निर्देश दिये। जिससे परिसर की सुंदरता बनी रहे। उन्होंने कहा कि परिसर में वृक्षारोपण की कार्यवाही करने सुनिश्चित करेंगे। वह 5 जून 2021 को विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर वृक्षारोपण को पहुंचेगे।
जिलाधिकारी ने कहा कि 3 करोड़ 97 लाख से बनाये जाने वाले इस भवन का निर्माण कार्य पेयजल निर्माण शाखा द्वारा किया जा रहा है, जो वर्ष 2010-11 में स्वीकृत हुआ था। साथ ही भवन के निर्माण कार्यों में विलम्ब के कारणों की जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि आश्रम पद्धति विद्यालय के संचालन के लिए जो भी आवश्यक गतिविधि, कार्यवाही है, उसे पूर्ण कर लिया जाय। अन्य आवश्यक कार्य के लिए धनराशि की आवश्यकता होने पर डीपीआर बनाकर प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया कि विद्यालय संचालन के लिए फर्नीचर सामाग्री, बैड आदि सामाग्री भी क्रय करने तथा नियमानुसार भवन की मानक के अनुरूप जांच/परीक्षण करते हुए, 15 दिन के अंदर भवन हस्तांतरण की कार्यवाही पूर्ण कर ली जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में कक्षा प्रारंभ करने की कार्यवाही अगले सत्र से कर ली जायेगी। इस अवसर पर ग्राम प्रधान सिंडी जसकोट रेखा देवी, जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनीता अरोड़ा, आश्रम पद्धति विद्यालय के प्रधानाध्यापिका अंजना नेगी, परियोजना प्रबंधन पेयजल निर्माण कपिल सिंह, एचएस बुटोला, सहायक समाज कल्याण अधिकारी अनिल सेमवाल, कमल नेगी, राकेश चंद, बचन सिह, सुल्तान सिंह, राजेश रावत रजनी बिष्ट, दीपक सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!