ग्रामीणों ने श्रमदान करके बना डाला 1 किमी पैदल मार्ग

Spread the love

संवाददाता, नैनीताल। रामगढ़ ब्लॉक के ग्राम सभा लोश्ज्ञानी के ग्रामीणों पिछले कई दशकों से क्षेत्र में सड़क का इंतजार कर रहे थे। लेकिन लॉकडाउन में ग्रामीण एकजुट होकर खुद ही पैदल मार्गों का निर्माण करने में जुट गए। ग्रामीणों ने अब तक एक किलोमीटर मार्ग बना दिया है। ग्रामसभा लोश्ज्ञानी में 250 परिवार सड़क जैसी आधारभूत सुविधा से आज भी वंचित हैं। फल पट्टी रामगढ़ के ग्रामसभा लोश्ज्ञानी के लोगों को 5 किलोमीटर चलकर मुख्यमार्ग तक पहुंचना पड़ता है। वहीं ग्रामीणों को फल-सब्जियों को सिर पर ढोकर लाना व ले जाना पड़ता है। ग्राम प्रधान गीता देवी ने बताया कि लोश्ज्ञानी में 90 फीसदी लोग खेती से जुड़े हैं। उन्होने बताया कि आडू , पुलम, खुमानी बहुयात मात्रा में होता है। लेकिन इसे सड़क तक पहुंचाने में मुश्किल होती है। लॉकडाउन के दौरान ग्रामीणों द्वारा श्रमदान कर पैदल सड़कों को ठीक किया जा रहा है। श्रमदान में जुटे ग्रामीणों ने पैदल सड़कों को दुरस्त करने का जिम्मेदारी उठायी है। बरसात को ध्यान में रखते हुए रास्तों की नालियों को साफ-सफाई की जा रही है। श्रमदान करने वालों में सामाजिक कार्यकर्ता, मदन लाल, खड़क सिंह प्रताप सिंह, नीरज, खुशाल व अन्य ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!