आईजी रौतेला ने ली मासिक अपराध समीक्षा बैठक

Spread the love

नैनीताल। कुंभ के आयोजन को लेकर मंडल भर से करीब 45 फीसदी पुलिस फोर्स की कमी बनी हुई है। ऐसे में इस दौरान होने वाले विभिन्न मेलों के आयोजन में शांति व्यवस्था बनाए रखना पुलिस के लिए भी चुनौती बना हुआ है। आईजी अजय रौतेला ने जिले के कप्तानों को पुलिसकर्मियों के कार्य के घंटों में बढ़ोतरी कर व्यवस्थाएं सुचारु रूप से चलाने के निर्देश दिए हैं। गुरुवार को आईजी अजय रौतेला ने मल्लीताल स्थित कार्यालय में जिले के कप्तानों के साथ मासिक अपराध समीक्षा बैठक ली। इस दौरान अधीनस्थों ने उन्हें अवगत कराया कि जिलों में करीब 45 फीसदी पुलिस फोर्स कुंभ ड्यूटी में लगा हुआ हैं। इस समय पूर्णागिरि मेला, चैती मेला और रुद्रपुर में अटरिया मेले का आयोजन किया जाना है। नैनीताल में पर्यटन सीजन को लेकर भी पुलिसकर्मियों की कमी चुनौती बनी हुई है। जिस पर आईजी अजय रौतेला ने निर्देश दिए कि ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों की कार्यों के घंटों में बढ़ोतरी कर उन से काम लिया जाए। 15 अप्रैल के बाद कुंभ ड्यूटी से जब पुलिसकर्मी वापस लौटेंगे तो स्थिति सामान्य होने लगेगी। उन्होंने थानों में लंबित चोरी, एमवी एक्ट में जब्त माल का जल्द निस्तारण करने को कहा। साथ ही महिला अपराधों को गंभीरता से लेते हुए उन पर त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए। कोविड को लेकर उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मी स्वयं के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए चालानी कार्रवाई को तेज करें। मगर किसी व्यक्ति को अनावश्यक परेशान न किया जाए। कहा कि वनाग्नि और गर्मी बढ़ने के साथ ही पानी का संकट भी सामने आएगा। ऐसे में पुलिसकर्मी आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाने के साथ ही जरूरतमंद लोगों के मदद के लिए भरसक प्रयास किए जाएं। बैठक में नैनीताल एसएसपी प्रीति प्रियदर्शनी, उधमसिंह नगर के दिलीप सिंह कुंवर, अल्मोड़ा के पंकज भट्ट बागेश्वर एसपी अमित श्रीवास्तव, चंपावत के लोकेश्वर और पिथौरागढ़ एसएसपी सुखवीर सिंह समेत अन्य पुलिसकर्मी मौजूद रहे।
इन्हें किया गया सम्मानित : साइबर सेल की तीन पुलिसकर्मी चुने गए पुलिस मैन ऑफ द मंथ मार्च माह में साइबर अपराधियों द्वारा जिले में करीब 24 लाख की ठगी सामने आई थी। शिकायतों के बाद तत्परता दिखाते हुए साइबर सेल हल्द्वानी के तीन पुलिसकर्मियों ने कार्रवाई करते हुए करीब 18 लाख रुपए पीड़ितों को वापस पहुंचाए। जिस पर सेल में तैनात कांस्टेबल अशोक सिंह रावत, अरविंद सिंह बिष्ट और सुरेश चंद्र को पुलिस मैन ऑफ द मंथ चुना गया। अजय रौतेला ने उन्हें प्रशस्ति पत्र और एक हजार नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!