कर्मचारियों के मानवाधिकारों की रक्षा करना सरकार का दायित्व

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि। 
पौड़ी। राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने पुरानी पेंशन बहाली के लिए एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। मोर्चा के पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार हमारी नियोक्ता है और हमारे मानवाधिकारों की रक्षा करना उसका दायित्व है। कर्मचारियों ने जल्द उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है।
गुरूवार को राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने जनपद मुख्यालय में एसडीएम एसएस राणा को ज्ञापन सौंपा। संगठन के प्रदेश महासचिव सीताराम पोखरियाल ने कहा कर्मचारी सरकार के साथ हर निर्णय पर कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। लेकिन सरकार कर्मचारियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। प्रधानमंत्री ने देश को आत्मनिर्भरता का नारा दिया लेकिन बुढ़ापे में जब हाथ पैर किसी काम के न हों और जेब खाली हो तो किस प्रकार आत्मनिर्भरता का उद्देश्य पूर्ण होगा। सरकार को इस महत्वपूर्ण मुद्दे पर ध्यान देते हुए पुरानी पेंशन को बहाल करना होगा। मंडलीय अध्यक्ष जयदीप रावत ने कहा कि हर मांग आग्रह से शुरू होती है और आंदोलन पर खत्म। लेकिन यह मांग तब तक खत्म नहीं होगी जब तक यह लागू नहीं हो जाती। कर्मचारियों ने जल्द उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। इस मौके पर जिला महासचिव भवान सिंह नेगी, राजपाल बिष्ट, दीपक गैरोला, राकेश रावत, गौरी नैथानी, सौरभ नौटियाल, ईश्वर सिंह चौहान, मनोज भंडारी, जगदंबा कुकरेती, कालिंका प्रसाद बड़थ्वाल, धनवीर चौहान, भूपेंद्र, अरुण उनियाल, विपिन गैरोला, नरेश भट्ट, मंगल नेगी आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!