कोटद्वार-दुगड्डा के बीच बादल फटने से नेशनल हाईवे पर आये मलबे में बही कार, दो की मौत, एक लापता

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि
कोटद्वार। राष्ट्रीय राजमार्ग 534 नजीबाबाद-बुआखाल पर कोटद्वार-दुगड्डा के बीच पांचवें मील के पास बादल फटने से एक कार बह गई। कार में तीन लोग सवार थे।
पानी के बहाव में दो लोग बह गये है, जबकि एक को एसडीआरएफ और पुलिस की टीम ने रेस्क्यू कर राजकीय बेस अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उपचार के
दौरान उसकी मौत हो गई। एसडीआरफ की टीम द्वारा लापता लोगों की खोजबीन के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। जिसके तहत एक लापता व्यक्ति का शव
घटनास्थल से सात किमी दूर कोटद्वार के काशीरामपुर तरला में बरामद किया गया। जिसकी पहचान हिमांशु गुप्ता पुत्र अजय गुप्ता उम्र २५ वर्ष निवासी चांदनीचौक
दुगड्डा के रूप में हुई है। यह युवक दुगडडा से फरीदाबाद जा रहा था। जबकि दूसरे व्यक्ति का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। वहीं सड़क पर मलबा और
पत्थर आने से राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात ठप हो गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग मार्ग को खोलने के प्रयास कर रहा है।
मंगलवार दोपहर को 12 बजे अचानक तेज बारिश शुरू हुई। जो सांय 4 बजे तक जारी रही। इसी दौरान दोपहर लगभग डेढ़ बजे कोटद्वार-दुगड्डा के बीच पांचवे मील
के पास ऊपर जंगल में बादल फट गया। पानी के साथ मलबा सड़क पर आ गया। इसी दौरान दुगड्डा की ओर से एक स्वीफ्ट डिजायर कार पानी के बहाव के साथ
बह गई। घटना की जानकारी मिलने पर तत्काल दुगड्डा पुलिस चौकी प्रभारी ओमप्रकाश के साथ पुलिस और एसडीआरएफ टीम के साथ मौके पर पहुंचे। टीम ने
रेस्क्यू कर वाहन चालक को तो बचा लिया, लेकिन कार में सवार दो लोग बह गये। वाहन चालक को पुलिस ने आपातकालीन सेवा वाहन 108 की मदद से राजकीय
बेस अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चालक का उपचार चल रहा है। कार चालक ने पुलिस को बताया था कि वह मंगलवार सुबह दिल्ली से सतपुली यात्रियों को
छोड़ने गया था। दोपहर को वह वापस लौट रहा था। इसी दौरान दुगड्डा में उसने अपनी कार में दो व्यक्तियों को कोटद्वार के लिए बैठाया था। सूचना मिलने पर अपर
जिलाधिकारी डॉ. एसके बरनवाल, उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा, अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय, पुलिस उपाधीक्षक अनिल जोशी, कोतवाली उपनिरीक्षक मनोज
रतूड़ी, प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी मौके पहुंचे।
अपर जिलाधिकारी डॉ. एसके बरनवाल ने अधिकारियों से घटना के बारे में जानकारी ली। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने बताया कि वाहन चालक 40
वर्षीय भूपेन्द्र सिंह पुत्र इन्द्र सिंह निवासी ग्राम खेती काकड़ी, लोहाघाट चंपावत आकेपुरम दिल्ली से सवारियों को छोड़ने के लिए सतपुली आया था। वापस आते समय
50 वर्षीय व्यक्ति और 23 वर्षीय युवक कोटद्वार आने के लिए वाहन में बैठ गये। दोपहर करीब डेढ़ बजे पांचवें मील के पास बादल फटने से सड़क पर आये मलबा
और पानी के बहाव में वाहन बह गया। उन्होंने बताया कि रेस्क्यू कर वाहन चालक को तो बचा लिया गया है, लेकिन वाहन में सवार दो लोग बह गये है। उनकी
खोजबीन की जा रही है।
कोतवाल ने बताया कि चालक की राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार में उपचार के दौरान मौत हो गई।

एनएच पर लगी वाहनों की कतार
मंगलवार को दोपहर राष्ट्रीय राजमार्ग 534 नजीबाबाद-बुआखाल पर कोटद्वार-दुगड्डा के बीच पांचवें मील के पास बादल फटने से सड़क पर पत्थर और मलबा आ
गया। जिस कारण मार्ग पर यातायात ठप हो गया। मार्ग के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। सड़क के दोनों ओर जाम लगने से यात्रियों को भारी
परेशानियों का सामना करना पड़ा। करीब चार घंटे बाद मार्ग को यातायात के लिए खोला गया। मंगलवार दोपहर को बादल फटने से एनएच पर भारी मात्रा में पत्थर
आ गये। इससे सड़क पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से ठप हो गई। सायं 5 बजे तक भी मार्ग नहीं खुल पाया था। यह राष्ट्रीय राजमार्ग गढ़वाल को कोटद्वार से
जोड़ने का एकमात्र मार्ग है। इस मार्ग से प्रतिदिन हजारों लोग अपने गतंव्यों की .ओर जाते है। बरसात के समय इस मार्ग पर पहाड़ी से बोल्डर आते रहते है। बरसात
के समय अक्सर इस मार्ग पर बोल्डर आने से आवाजाही ठप हो जाती है। उधर, अरविंद जोशी अपर सहायक अभियंता एनएच खंड धुमाकोट ने बताया कि जेसीबी
मशीन से सड़क पर आये पत्थर और मलबे को हटाकर मार्ग को यातायात के लिए खोल दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!