कोटद्वार में भी कोरोना का अंत शुरू: बेस हॉस्पीटल कर्मियों को लगा पहले दिन टीका

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।

कोटद्वार। पौड़ी जनपद के कोटद्वार में कोरोना टीकाकरण अभियान का पहला चरण शुरू हो गया है। राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के कक्ष सेवक रफीक अहमद को कोटद्वार में वैक्सीन का पहला टीका लगाया गया। इसके बाद वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. जेसी ध्यानी को वैक्सीन का दूसरा टीका लगाया गया। बेस अस्पताल के 158 स्वास्थ्य कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। बेस अस्पताल को कोविड सील्ड वैक्सीन टीकाकरण के लिए मिली है। बेस अस्पताल में 18 जनवरी को भी टीकाकरण किया जाएगा। बेस अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. बीसी काला ने बताया कि अस्पताल के 158 कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। शनिवार को टीकाकरण के लिए 84 कर्मचारियों का पंजीकरण किया गया था, जिसमें से 79 कर्मचारियों का टीकाकरण किया गया है। अन्य कर्मचारियों का सोमवार को टीकाकरण किया जायेगा।
बेस अस्पताल के कर्मचारी रफीक अहमद ने समाज को संदेश देते हुए कहा कि सभी लोग टीकाकरण के लिए आगे आये। इससे घबराने की कोई जरूरत नहीं है। यह टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के बाद उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। रफीक अहमद ने बताया कि गत शुक्रवार को अस्पताल की ओर से उन्हें कोरोना वैक्सीन टीकाकरण के लिए मैसेज और फोन आया था। शनिवार सुबह करीब 9 बजे वह बेस अस्पताल टीकाकरण के लिए पहुंचे। जहां सबसे पहले हाथ सेनेटाइज किये। इसके बाद प्रथम टीम को अपना आधार कार्ड दिखाया। इसके बाद उन्हें दूसरी टीम के पास भेजा गया। जहां उनके आधार कार्ड से कोविड टीकाकरण सूची से मिलान किया गया। इसके बाद तीसरी टीम कोविड पंजीकरण के पास भेजा गया। जहां उनका कोविड पोर्टल पर पंजीकरण किया गया। पंजीकरण के बाद उन्हें कोविड वैक्सीन का टीका लगाया गया। टीकाकरण के बाद निगरानी कक्ष में आधा घंटा निगरानी में रखा गया। रफीक अहमद ने बताया कि उन्हें टीकारण के बाद किसी भी तरह की दिक्कत नहीं है।
शनिवार को राजकीय बेस अस्पताल में कोरोना टीकाकरण अभियान का पहला चरण शुरू हुआ। प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार सुबह साढ़े 10 बजे कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत की। इस मौके पर मोदी ने कहा कि आज वो वैज्ञानिक, वैक्सीन रिसर्च से जुड़े अनेकों लोग विशेष प्रशंसा के हकदार हैं, जो बीते कई महीनों से कोरोना के खिलाफ वैक्सीन बनाने में जुटे थे। आमतौर पर एक वैक्सीन बनाने में बरसों लग जाते हैं। लेकिन इतने कम समय में एक नहीं, दो मेड इन इंडिया वैक्सीन तैयार हुई हैं।” उन्होंने देशवासियों से टीकाकरण को लेकर अफवाहों से बचने की भी सलाह दी। प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद वैक्सीन का टीका लगाने की प्रक्रिया शुरू हुई।


बेस अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. जेसी ध्यानी ने बताया कि गत शुक्रवार सांय को बेस अस्प्ताल की ओर से उनके फोन पर टीकाकरण के लिए मैसेज और फोन आया था। वह शनिवार सुबह टीकाकरण के लिए सुबह 9 बजे आये थे। सबसे पहले सुरक्षा कर्मियों ने उनका फोटो आईकार्ड चेक किया। इसके पश्चात अंदर जाने की अनुमति दी गई। अंदर जाने के बाद स्वास्थ्य कर्मियों ने उनके बारे में जानकारी ली। डॉ. ध्यानी ने बताया कि वेटिग रूम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संबोधन सुना। प्रधानमंत्री का संबोधन हृदयस्पर्शी और प्रेरणादायी था। इसके बाद कोविड पोर्टल पर मेरा रजिस्टे्रशन किया गया। रजिस्टे्रशन के बाद टीकाकरण किया गया। वेटिग रूम में स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें वैक्सीन लगने के बाद कोविड नियमों का पूर्व की भांति पालन करने को कहा। साथ ही स्वास्थ्य कर्मियों ने उनकी वीपी सहित अन्य जांचे की। साथ ही किसी भी प्रकार की दिक्कत होने पर डॉक्टर से सम्पर्क करने को कहा। डॉ. ध्यानी ने कहा कि टीका लगाने के बाद वह स्वस्थ महसूस कर रहे है, उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। उन्होंने कहा कि यह टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। सभी लोग टीकाकरण में भागीदारी करें। इस मौके पर उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा, तहसीलदार विकास अवस्थी, बेस अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. वीसी काला, अस्पताल के मैनेजर बीएस रावत, डॉ. दिनेश कुमार, डॉ. सुनील कुमार सहित अस्पताल के डॉक्टर और कर्मचारी मौजूद थे।

टीकाकरण के लिए तैयार समाजसेवी नेगी
सामाजिक सरोकारों से जुड़े स्व. सरोजनी देवी लोक विकास समिति के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह नेगी ने स्वदेशी वैक्सीन विकसित करने पर देश के वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए कहा कि वह वैक्सीन लगाने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि बहुत ही कम समय में देश के वैज्ञानिकों ने यह वैक्सीन तैयार की है। आम जनता से अपील करते हुए कहा कि इस रोग की भयवहता को देखते हुए सभी को टीकाकरण के लिए आगे आना चाहिए।

स्वास्थ्य केन्द्र दुगड्डा में 644 स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका
जनपद पौड़ी गढ़वाल में स्वास्थ्य कर्मियों का कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण के लिए प्रशासन ने सारी तैयारियां पूरी कर ली है। जहां बेस अस्पताल कोटद्वार में 158 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण शनिवार और सोमवार को किया जाएगा। वहीं स्वास्थ्य केन्द्र दुगड्डा में 644 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने बताया कि स्वास्थ्य केन्द्र दुगड्डा में कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण के लिए 644 स्वास्थ्य कर्मियों को चिन्हित किया गया है। जल्द ही केन्द्र पर टीकाकरण शुरू हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!