कोटद्वार में सेना भर्ती का आगाज: पहले दिन उत्तरकाशी के 3202 में 2744 पहुंचे, 522 ने की पहली बाधा पार

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरआरसी) लैंसडौन के तत्वावधान में गढ़वाल मंडल के सात जनपदों की भर्ती रैली रविवार से कोटद्वार के गब्बर्र ंसह कैम्प में शुरू हो गई है। रैली के पहले दिन उत्तरकाशी जिले के उत्तरकाशी जिले की पुरोला, मोरी, राजगड़ी, डूंडा, चिन्यालीसौड़, भटवाड़ी और बड़कोट तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। उक्त तहसीलों के 3202 युवाओं ने पंजीकरण कराया था, जिसमें से रैली स्थल पर 2744 अभ्यर्थी पहुंचे। इनमें से 522 अभ्यर्थियों ने दौड़ की पहली बाधा पार कर ली है। लैंसडौन भत्र्ती कार्यालय की ओर से जीडी, टेक्निकल, नर्सिग सहायक, क्लर्क और ट्रेडमैन की भत्र्ती की जा रही है। भर्ती रैली में कोविड-19 के नियमों का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है।
लैंसडौन स्थित सेना भर्ती कार्यालय के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि भर्ती रैली के लिए लगभग 46 हजार 3 सौ 76 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण किया है। रविवार को उत्तरकाशी जिले के उत्तरकाशी जिले की पुरोला, मोरी, राजगड़ी, डूंडा, चिन्यालीसौड़, भटवाड़ी और बड़कोट तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। उत्तरकाशी जनपद के 3202 युवाओं ने भर्ती के लिए ऑनलाईन आवेदन किया था। जिसमें से भर्ती रैली में 2744 युवाओं ने प्रतिभाग किया। पहले दिन उत्तरकाशी जिले के उत्तरकाशी जिले की पुरोला, मोरी, राजगड़ी, डूंडा, चिन्यालीसौड़, भटवाड़ी और बड़कोट तहसील के 458 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। उन्होंने कहा कि सुबह 5 बजे से काशीरामपुर तल्ला के पास फुटबॉल ग्राउण्ड में एकत्रित कर युवाओं की एसम्बेली एरिया में अभ्यर्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इसके बाद टोकन एरिया, प्री लम्बाई, बार कोर्ड एरिया, स्टम्पिंग एरिया की प्रक्रिया पूरी की गई। इसके बाद 1600 मीटर दौड़ का आयोजन किया गया। सुबह करीब सात बजे पहले दौड़ शुरू हुई। दौड़ में 2744 अभ्यर्थियों में से मात्र 522 अभ्यर्थी ही दौड़ में पास हो पाये। दौड़ में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को चिनअप, लंबी कूद की प्रक्रिया से गुजरना होगा। इसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों की छाती, लम्बाई की माप की जायेगी। उक्त प्रक्रिया में पास होने वाले युवाओं का मेडिकल टेस्ट किया जायेगा।

आज उत्तरकाशी और रूद्रप्रयाग के युवा दिखायेगें जोश
कोटद्वार। लैंसडौन स्थित सेना भर्ती कार्यालय के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि सोमवार 21 दिसंबर को उत्तरकाशी के बड़कोट और रुद्रप्रयाग जिले के ऊखीमठ, जखोली और बसुकेदार तहसील की भर्ती होगी। 22 दिसंबर को रुद्रप्रयाग जिले के रुद्रप्रयाग तहसील एवं टिहरी गढ़वाल की घनसाली, देवप्रयाग तहसील की भर्ती होगी। 23 दिसम्बर को टिहरी जिले के प्रतापनगर, टिहरी, धनौल्टी, जाखणीधार, और नरेन्द्र्रनगर तहसील की भर्ती होगी। 24 दिसंबर को टिहरी गढ़वाल के कंडीसौण, गजा और कीर्तिनगर और चमोली जिले के थराली, गैरसैंण, आदिबद्री तहसील के युवा हिस्सा लेगें। 25 दिसंबर को चमोली जिले के जोशीमठ, चमोली, कर्णप्रयाग, देवल, नारायणबगढ़, नगासू, नंद्रप्रयाग और घाट के युवा, 26 दिसंबर को चमोली की पोखरी तहसील के साथ पौड़ी गढ़वाल जिले की जाखणीखाल, बीरोंखाल और पौड़ी तहसील के युवा रैली में शामिल होंगे। 27 दिसंबर को पौड़ी गढ़वाल जिले की लैंसडौन, सतपुली और श्रीनगर, 28 दिसम्बर को पौड़ी गढ़वाल के थैलीसैंण, धुमाकोट व चौबट्टाखाल, 29 दिस्म्बर को पौड़ी जिले के कोटद्वार, यमकेश्वरऔर चाकीसैंण तहसील के युवाओं की भर्ती होगी। 30 दिसंबर को हरिद्वार जिले के रुड़की, हरिद्वार और भगवानपुर, 31 दिसंबर को हरिद्वार जिले के लक्सर व देहरादून जिले की देहरादून तहसील के युवाओं के लिए भर्ती होगी। एक जनवरी को देहरादून जिले के चकराता, विकासनगर, त्यूणी व दो जनवरी को देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी के युवा रैली में भाग लेंगे।

सीसीटीबी कैमरे की निगरानी में हो रही दौड़
कोटद्वार। लैंसडौन स्थित सेना भर्ती कार्यालय के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि भर्ती रैली में दौड़ प्रक्रिया में एक साथ दो सौ अभ्यर्थियों को एक साथ दौड़ाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 1600 मीटर दौड़ के लिए मैदान के चार चक्कर लगाने होगें। गब्बर सिंह कैंप में आर्मी भर्ती रैली के दौरान दौड़ की प्रक्रिया सीसीटीबी कैमरे की निगरानी में होगी। कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

सेना भर्ती रैली में कोविड नियमों का कराया जा रहा पालन
कोटद्वार। गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरआरसी) लैंसडौन के तत्वावधान में गढ़वाल मंडल के सात जनपदों की भर्ती रैली रविवार से कोटद्वार के गब्बर्र ंसह कैम्प में शुरू हो गई है। भर्ती रैली में कोविड-19 के नियमों का पूरी तरह से पालन कराया जा रहा है। भर्ती ग्राउण्ड में सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिए सफेद पत्थरों को निर्धारित दूरी पर रखा जा रहा है। पत्थरों के सामने ही अभ्यर्थियों को बैठने को कहा जा रहा है। इसके अलावा समय-समय पर अभ्यर्थियों को सेनेटाइजर का प्रयोग करने को कहा जा रहा है। साथ ही मास्क को न हटाने की हिदायत दी जा रही है। लैंसडौन स्थित सेना भर्ती कार्यालय के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन अभ्यर्थियों से पूरी तरह से कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!