कूड़े को लेकर निगम लापरवाह, जगह-जगह लगे कूड़े के ढेर

Spread the love

कूड़े को लेकर निगम लापरवाह, जगह-जगह लगे कूड़े के ढेर
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम द्वारा साफ-सफाई का दावा तो बहुत किया जाता है, लेकिन शहर का नजारा दावों पर खरा नहीं उतर रहा है। नगर निगम कर्मियों की लापरवाही
का नतीजा है कि शहर में जगह-जगह कूड़े के ढेर मिल जाते हैं। नियमित कूड़ा न उठने के कारण सड़क किनारे गंदगी पड़ी रहती है। कूड़े के ढेर से बदूब आने
लगती है और फिर लोगों के द्वारा कचरे को लापरवाही के साथ फेंक दिया जाता है। इसका असर यह होता है कि उन रास्तों से गुजरना मुश्किल हो जाता है। यह हाल
शहर के प्रमुख मार्गों का है।
शहर में चौक-चौराहे पर कहीं-कहीं कूड़ेदान दिखते हैं अन्यथा अधिकांश जगह खुले में ही कचरे को फेंक दिया जाता है। मुख्य मार्गों से लेकर मोहल्ले तक
कूड़े का समय से उठाव नहीं हो रहा है। कूड़े का उठाव नहीं होने कारण चारों तरफ गंदगी फैली रहती है। नगर निगम की गाड़ी समय पर नहीं आती है। नगर निगम
क्षेत्र के अंतर्गत मालगोदाम रोड और गाड़ीघाट तिराहा से मंगलवार सुबह 11 बजे तक भी कूड़ा नहीं उठा था। कचरा का समय से उठाव नहीं होने के कारण चारों तरफ
गंदगी फैली रहती है। उस रास्ते से आने -जाने वाले लोगों को हमेशा ही परेशानी होती है। बदबू के कारण रास्ते से गुजरना मुश्किल हो जाता है। स्थानीय निवासी
महेश, नरेन्द्र का कहना है कि केन्द्र और राज्य सरकार स्वच्छता अभियान चला रही है, लेकिन कोटद्वार में यह अभियान धरातल पर नजर नहीं आ रहा है। नगर
निगम की लापरवाही से जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे रहते है, जिस कारण राहगीरों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि नगर निगम के
अधिकारियों से कई बार समय से कूड़ा उठाने की मांग की गई, लेकिन जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है। उधर, नगर निगम के सफाई निरीक्षक सुनील कुमार
का कहना है कि सफाई कर्मचारियों को समय से कूड़ा उठाने के लिए निर्देशित किया जायेगा।

कूड़े ने बढ़ाई परेशान
शहर के लोग पहले ही नालियों में जमा गंदे पानी से परेशान थे। अब कूड़े के ढेर ने परेशानी और बढ़ा दी है। बरसात का मौसम शुरू हो चुका है, जिससे पानी में
भीगने से कूड़ा सड़ने लगा है। कूड़ा सड़ने से दुर्गध उठने लगी है। इससे बीमारियां फैलने का बड़ा खतरा अलग से पैदा हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!