महिलाओं ने मोबाइल वैन से शराब की बिक्री का किया विरोध

Spread the love

मंत्री के आदेश की अवहेलना का लगाया आरोप
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। सनेह क्षेत्र में शराब की दुकान के विरोध में महिलाओं का आंदोलन जारी है। महिलाओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि जिला प्रशासन ने शराब की दुकान पर ताला लगवाकर क्षेत्र में मोबाइल वैन से शराब की बिक्री शुरू करा दी है। जिससे क्षेत्र का माहौल खराब हो रहा है। सरकार द्वारा सनेह क्षेत्र में मोबाइल वैन से शराब की बिक्री की स्वीकृति देने से महिलाएं अपने को ठगा महससू कर रही है। महिलाओं ने मोबाइल वैन से शराब की बिक्री करने का विरोध किया।
महिलाओं के भारी विरोध के बाद प्रशासन ने सनेह क्षेत्र में खोली गई शराब की दुकान पर तो ताले डाल दिए, लेकिन अब इस क्षेत्र में मोबाइल वैन से शराब की बिक्री शुरू करा दी। जिससे महिलाओं में रोष व्याप्त है। महिलाओं ने प्रशासन के इस निर्णय के खिलाफ धरना दिया व क्षेत्र में मोबाइल वैन के माध्यम से बिक रही शराब की दुकान को हटाने की मांग की। महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष श्रीमती रंजना रावत ने जिला प्रशासन पर स्थानीय विधायक एवं काबीना मंत्री डॉ0 हरक सिंह रावत के आदेश की अवहेलना का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि जनता के आन्दोलन को देखते हुए मंत्री ने 24 घंटे में शराब की दुकान हटाने के निर्देश दिये थे, लेकिन प्रशासन ने दुकान पर ताला लगाकार अब मोबाइल वाहन के नाम पर शराब का कारोबार शुरू करवा दिया। उन्होंने कहा कि शराब की दुकान को बंद कराने की मांग को लेकर महिलाओं का एक प्रतिनिधि मंडल पिछले दिनों स्थानीय विधायक एवं वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत से मिला था, मंत्री ने महिलाओं को दुकान बंद कराने का आश्वासन दिया था। मंत्री के आदेश पर प्रशासन ने शराब की दुकान तो बंद करा दी, लेकिन जिलाधिकारी ने शराब की बिक्री के लिए मोबाइल वैन की स्वीकृति दे दी। उन्होंने कहा कि सरकार जहां एक ओर आम जनता को पीने का पानी मुहैया कराने में नाकाम रही है, वहीं जनता के विरोध के बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में शराब की दुकान खोलकर माहौल खराब कर रही है। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन ने दुकान बंद कर क्षेत्र में मोबाइल वाहन के जरिये घर-घर शराब पहुंचाने की व्यवस्था कर दी है। जिससे क्षेत्र में माहौल खराब हो रहा है।
उन्होंने कहा कि इसके विरोध में आन्दोलन जारी रखा जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!