धूमधाम से मनाई बाबा साहेब डॉ. अंबेडकर 130वीं जयंती

Spread the love

– शैल शिल्पी संगठन ने लिया उनके बताये रास्ते पर चलने का संकल्प
जयन्त प्रतिनिधि। 
कोटद्वार। शैल शिल्पी संगठन की ओर से बुधवार को बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की 130वीं जयंती धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर संगठन के कार्यकत्र्ताओं ने उनके बताए रास्ते पर चलने का संकल्प लिया है।
सिम्मलचौड़ में संगठन में अध्यक्ष शिवकुमार की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर संगठन के संरक्षक सुरेंद्र लाल आर्य ने कहा कि समाज की भलाई के लिए हमें समाज में फैले अंधविश्वास एवं रूढ़ीवादी विचारों को त्यागना होगा और बाबा साहेब के बताए मार्ग चलना होगा। ओमप्रकाश कोटला ने कहा कि दलित समाज आज भी शोषण की चपेट से उभर नहीं पा रहा है। इसका प्रमुख कारण पढ़ा लिखा समाज ही दोषी इसलिए है कि वह जहां से उन्नति के मार्ग पर चला था, उस मार्ग से वह भटक चुका है। ऐसे भटके लोगों को मुख्य मार्ग पर लाना पहला कत्र्तव्य होगा। मनवर सिंह आर्य ने कहा कि नई पीढ़ी के लिए जो हमारे समाज की अच्छी पढ़ी लिखी पीढ़ी है, उनके लिए वर्तमान सरकार ने रोजगार के सारे दरवाजे बंद करना शुरू कर दिया है, यह गंभीर चिंता का विषय है। प्रदेश महामंत्री विकास आर्य ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तराखंड के जिस शिल्पकार समाज ने पूरे देश दुनिया में उत्तराखंड की शिल्पकला से लोकसंस्कृति और लोक परंपराओं में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, वह समाज ही आज खतरे में हैं। इस मौके पर वचन लाल जितेला, विनोद, डॉ. सतीश प्रकाश, मनमोहन, अनूप कुमार पाठक, श्रद्धानंद, मनवर लाल भारती, प्रभुदयाल, विनोद कुमार, धर्मेंद आर्य, प्रधानाचार्य सोहनलाल आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!